बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने कहा कि लखीमपुर खीरी में महिला के साथ बदसलूकी और आजमगढ़ एवं चंदौली में दलितों के उत्पीडऩ की घटनायें प्रमाणित करती है कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज चल रहा है। 

मायावती ने शनिवार को ट्वीट किया 'यूपी में वर्तमान भाजपा सरकार में भी कानून का नहीं बल्कि जंगलराज चल रहा है, जिसके तहत यहाँ पंचायत चुनाव में हुई असंख्य हिंसा व लखीमपुर खीरी की एक महिला के साथ की गई बदसलूकी भी अति-शर्मनाक। क्या यही इनका कानून का राज व लोकतन्त्र है। यह सोचने की बात है।'

उन्होने एक अन्य ट्वीट में कहा अब आजमगढ़ जिले की तरह चन्दौली जिले के बर्थरा खुर्द गाँव में भी दलितों के घरों को दबंगों द्वारा उजाडऩा व उत्पीडऩ आदि करना क्या यही इनका दलित प्रेम है। दु:ख यह भी है कि अभी भी केन्द्र व यूपी सरकार के दलित मंत्री चुप हैं, क्यों। यह अति-चिन्तनीय।'

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में नामांकन के दौरान पसगवां ब्लॉक परिसर में सपा समर्थित महिला प्रत्याशी रितु सिंह से पुलिस के सामने बदसलूकी की गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना को गंभीरता से लेते हुये सीओ, एसओ, एक इंस्पेक्टर के अलावा तीन पुलिस उप निरीक्षकों को निलंबित कर दिया है।