पिछले कुछ सप्ताह में इंटरनेट पर हार्ट अटैक के तमाम दिल दहला देने वाले वीडियो सामने आए हैं। कहीं किसी शख्स की डांस करते वक्त जान चली गई, तो कहीं रामलीला के मंचन के दौरान कलाकारों को हार्ट अटैक आ गया। ये वीडियो वायरल होने के बाद हर किसी की जुबां पर एक ही सवाल है कि क्या हार्ट अटैक किसी भी शख्स को हो सकता है? हैरानी की बात यह है कि इन लोगों को पता भी नहीं था कि वे मौत के कितने करीब पहुंच चुके हैं। हार्ट अटैक अचानक लोगों को मौत के आगोश में ले रहा है। जानकारों की मानें तो इस तरह होने वाली मौतों से लोग सावधानियां बरतकर बचाव सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप हार्ट अटैक से जुड़ी कुछ अहम बातें जान लें।

ये भी पढ़ेंः जेल में बंद 218 मुस्लिम कैदियों ने विधि विधान से नवरात्रि व्रत रख पेश की सांप्रयादिक सौहार्द की मिसाल

कार्डियोलॉजिस्ट के मुताबिक आज के दौर में कम उम्र के लोगों को भी हार्ट अटैक का ज्यादा खतरा है। इसकी सबसे बड़ी वजह बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल और अत्यधिक स्ट्रेस है। स्मोकिंग, एल्कोहल, खाने-पीने की गलत आदतें और बिल्कुल फिजिकल एक्टिविटी न करना भी हार्ट अटैक की बड़ी वजह होती हैं। बड़ी संख्या में युवा बॉडी बनाने के लिए सप्लीमेंट का सेवन करते हैं, जो हार्ट के लिए बेहद खतरनाक साबित होता है। इससे हार्ट अटैक और अन्य कार्डियोवैस्कुलर डिजीज का जोखिम बढ़ जाता है। अत्यधिक एक्सरसाइज और डांस से भी हार्ट पर दबाव बढ़ जाता है, जो हार्ट अटैक की वजह बन सकता है।

प्रमुख लक्षण

सीने में अचानक तेज दर्द होना

सीने का दर्द जबड़े तक पहुंच जाना

सीने में भारीपन महसूस होना

दिल की धड़कन अचानक तेज होना

सांस लेने में दिक्कत महसूस होना

अचानक बहुत ज्यादा पसीना आना

थकान, एनर्जी लॉस या बेहोशी होना

यह भी पढ़े :  नहीं देखी होगी ऐसी हिन्दू-मुस्लिम एकता , यहां की दुर्गा पूजा साम्प्रदायिक सौहार्द का संदेश देती है 

कार्डियोलॉजिस्ट के अनुसार आज के दौर में हर उम्र के लोगों को हार्ट अटैक का खतरा है। सभी लोगों को समय-समय पर हार्ट का चेकअप कराना कराना चाहिए। इसके अलावा जिम जॉइन करने से पहले कार्डियोलॉजिस्ट से जरूर कंसल्ट कर लेना चाहिए। इसके अलावा सभी लोगों को सोने और जागने का सही समय तय करना होगा। खाने-पीने को लेकर सावधानी बरतनी होगी। जंक फूड से बचना होगा। स्ट्रेस को मैनेज करना बहुत जरूरी है। हर दिन 40 मिनट में कम से कम 4 किलोमीटर वॉक करनी चाहिए। स्मोकिंग व एल्कोहल से दूरी बनाने में ही फायदा है।