इंफाल । पुलिस ने कल मणिपुर के एक पूर्व नौकरशाह के घर की तलाशी ली  । एक पूर्व मुख्यमंत्री और पांच अन्य के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में इस नौकरशाह का नाम भी शामिल होने के कारण यह तलाशी ली गई है। प्राथमिकी में इन सभी पर कथित रूप सै वित्तीय गड़बडियों में संलिप्त होने का आरोप लगाया गया है । यह जानकारी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक अदालत द्वारा सर्च वारंट जारी करने के बाद कल इंफाल के पश्चिमी जिले में मणिपुर डेवलपमेंट सोसायटी (एमडीएस ) के पूर्व परियोजना निदेशक बाई  र्निगथेम के घर पर छापा मारा । उन्होंने बताया कि तलाशी में क्या कुछ मिला है इसका पता नहीं चल सका है ।

एमडीएस में कथित वित्तीय अनियमितताओं के आरोप में मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री  ओ. इबोबी सिंह  और राज्य के पांच पूर्व शीर्ष नौकरशाहों के खिलाफ़ प्राथमिकी दर्ज की गई थी , जिसमें निंगथेम का नाम सामने आया है । इन पांच पूर्व शीर्ष नौकरशाहों में तीन पूर्व मुख्य सचिवों और एमडीएस के दो अधिकारियों का नाम है। 

वहीं कांग्रेस विधायक एन. लोकेन र्सिंह ने कल एक कार्यक्रम के दौरान प्राथमिकी दर्ज कराने के इस कार्य की "राजनीतिक प्रतिशोध" बताया है । राज्य  में मार्च में हुए विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा- पत्र में वादा किया था कि वह पिछले 15 सालों में हुए सभी वित्तीय घोटालों की जांच करेगी ।  इबोबी सिंह वर्ष 2002 से 2037 तक मुख्यमंत्री रहे।