एसेसमेंट ईयर 2021-22 के लिए आईटीआर दाखिल करने की समय सीमा 31 मार्च 2022 है। इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2021 थी। लेकिन पेनाल्टी के साथ 31 मार्च 2022 तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) दाखिल कर सकते हैं। साथ ही ऐसे टैक्सपेयर्स जिन्होंने कोई गलती कर दी है आईटीआर में उनके पास भी 31 मार्च 2022 तक गलतियां सुधारने का समय है। अगर टैक्सपेयर्स तय तारीख तक अपना रिटर्न दाखिल नहीं करते हैं, उन्हें इनकम टैक्स नियमों के उल्लंघन में 3 साल से 7 साल तक सजा हो सकती है। 

यह भी पढ़े : नितिन गडकरी ने जनता से किया बड़ा वादा, 2024 के अंत तक अमेरिका जैसी होंगी भारत की सड़कें


इनकम टैक्स रिटर्न पर Tax और इंवेस्टमेंट एक्सपर्ट बलवंत जैन कहते हैं, 'अगर अंतिम तारीख तक टैक्सपेयर्स अपने टैक्स का भुगतान नहीं कर पाते हैं तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट वास्तविक कर भुगतान का 50 प्रतिशत से 200 प्रतिशत तक का जुर्माना लगा सकता है।' बलवंत जैन आगे कहते हैं, 'अगर अंतिम तिथि तक करदाता आईटीआर दाखिल नहीं कर पाते हैं तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पास मुकदमा फाइल करने का अधिकार है।'

यह भी पढ़े : अगले 24 घंटो में बदल जाएगा इन लोगों का भाग्य! बुध चमकाएंगे इन राशि वालों की किस्‍मत

जेल के नियमों में बलवंत जैन कहते हैं, 'मौजूदा इनकम टैक्स के नियम के अनुसार कम से कम 3 साल की सजा और ज्यादा से ज्यादा 7 साल की सजा की सजा हो सकती है। डिपार्टमेंट तब केस फाइल कर सकता है जब कर देयता 10 हजार रुपये से अधिक होगी। उससे कम के भुगतान पर मुकदमा नहीं किया जा सकता।'

यह भी पढ़े : नया वायरस डेल्टाक्रॉन पहुंचा भारत, इन राज्यों में मिले मरीज; डेल्टा और ओमिक्रॉन का हाइब्रिड वेरिएंट है डेल्टाक्रॉन


अगर आपने 31 दिसंबर 2021 तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल नहीं किया है तो आप 31 मार्च 2022 तक इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की छूट आयकर विभाग की ओर से दी गई है, लेकिन, इसके लिए आपको जुर्माना भरना होगा। नियम के मुताबिक, 5 लाख रुपये से अधिक के टैक्स के भुगतान पर पेनल्टी 5000 रुपये तक होगी। यदि आपकी आय पांच लाख रुपये से कम है तो 1000 रुपये पेनल्टी भरनी होगी।' बता दें, आपने 31 मार्च 2022 के बाद 2021-22 एसेसमेंट ईयर के लिए आयकर रिटर्न भरा तो 10,000 रुपये पेनल्टी भरनी होगी।