कोरोना वायरस से मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। इसी के चलते उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जानकारी दी कि अब तक 23 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। लोगों को घर पर रुकने के लिए उन्होंने ऐलान किया कि राज्य के मजदूरों को भत्ते के रूप में एक हजार रुपये दिए जाएंगे। योगी ने जानकारी दी कि 15 लाख दिहाड़ी मजदूरों और 20.37 लाख निर्माण श्रमिकों को उनकी दैनिक जरूरतों को पूरा करने में मदद करने के लिए 1000 रुपये की राशि दी जाएगी।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने प्रदेश में आइसोलेशन वार्ड बनाए हैं। इस वायरस से घबराने की नहीं, चुनौतियों से लड़ने की जरूरत है। लोगों थोड़ी सी सुरक्षा करने की जरूरत है। साथ ही मजदूरों, ठेला लगाने वालों आदि को तत्काल राशन उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य के बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल सरकार मुफ्त में देगी। सुरक्षा का हवाला देते हुए उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि किसी भी चीज की कमी राज्य में नहीं है। लोग खाने-पीने की वस्तुओं को खरीद क जमा न करें।
कोरोना वायरस संक्रमण के 35 नए मामले सामने आने के बाद भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 258 हो गई। बता दें कि इन 258 लोगों में से 39 विदेशी नागरिक हैं। इन विदेशी नागरिकों में 17 इटली के, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन के तथा कनाडा, इंडोनेशिया एवं सिंगापुर का एक-एक नागरिक है। इस आंकड़े में दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में दर्ज किए गए कुल चार लोगों की मौत के मामले भी शामिल हैं। देश में रविवार को जनता कर्फ्यू है इस दौरान सभी यातायात बाजार बंद रहेंगे।