रोहद नगर रेलवे स्टेशन के निकट शुक्रवार शाम रेल की पटरियों के पास अचानक झाड़ियों में आग लगी गई। ऐसे में अवध आसाम एक्सप्रेस आधा घंटा रुकी रही। तेज हवा चलने से आग पटरी से दूसरी तरफ पहुंच गई। ट्रेन में सवार यात्री फंसे रहे। सूचना पर जब तक फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी मौके पर पहुंची तेज हवा से तब तक आग बुझ चुकी थी। आग सरकंडों में लगी थी जो ट्रैक के पास तक पहुंच गई। आग सरकंडों में कैसे लगी इसका पता नहीं चला है?
गनीमत रही कि कोई नुकसान नहीं हुआ। आग ज्यादा होने पर रेलवे प्रशासन ट्रेन को करीब आधा घंटा रोकने बाद यहां से गंतव्य के लिए रवाना किया।शुक्रवार शाम करीब सवा 6 बजे अवध आसाम एक्सप्रेस ट्रेन बहादुरगढ़ स्टेशन से रोहतक की ओर रवाना हुई। 6 बजकर 25 मिनट पर जब ट्रेन सांपला और रोहद के बीच में गेट नंबर 34 के नजदीक पहुंची तो ड्राइवर ने देखा पटरी के पास झाड़ियों में आग लग रही है।
ड्राइवर ने देखा काफी धुआं उठ रहा है, विजिबिलिटी बेहद कम है। ऐसे में ड्राइवर ने समझदारी दिखते हुए ट्रेन को पहले ही रोक दिया। ट्रेन के रुकते ही रेलवे विभाग में हड़कंप मच गया। धुंए के कारण ट्रेन में सवार यात्री भी बहार आ गए। इसकी सूचना मिलते ही रेलवे प्रशासन भी मौके पर पहुंच गया। अवध आसाम एक्सप्रेस रोहतक की ओर जा रही थी, जिसका स्टॉपेज बहादुरगढ़ के बाद रोहतक ही है। इसके बावजूद ट्रेन को यहां पर रोका गया। आग लगने की सूचना फायर ब्रिगेड और जीआरपी को दी गई।
जीआरपी के एएसआई राजेश ने बताया कि ट्रेन को आग से पहले ही रोका लिया था। आग सरकंडों में लगी थी, लेकिन तेज हवा चलने के कारण आग फैल गई, जो पटरी को पार कर दूसरी तरफ की झाड़ियों में लग गई। आग शांत होने के बाद 7 बजकर 19 मिनट पर ट्रेन को रवाना किया गया। जब तक दमकल वाहन भी मौके पर पहुंचा, तब तक आग शांत हो चुकी थी।