नए साल 2021 की शुरुआत हो गई है। 2020 बहुत ही कठीनाईयों से भरा रहा है। इस साल उम्मीद की जा रही है कि सारी परेशानियों में से कुछ परेशानियां हमेशा के लिए खत्म हो जाए। दुनिया में वैसे तो किसी की भी पूरी परेशानियां पूरे तरीके से खत्म नहीं होती है लेकिन अगर चाहे तो बहुत कुछ हो सकता है। अच्छा जीवन सही फैसलों से गुजारा जा सकता है लेकिन ग्रहों की चाल और प्रकोप से खुशहाल जीवन में बहुत कुछ बुरा हो सकता है लेकिन ज्योतिष के हिसाब से 2021 के साल में कुछ राशियों की भगवान की बहुत ही कृपा होगी।

 
ग्रहों की चाल मे शनि का संचार मकर राशि में, राहु वृष में, केतु वृश्चिक में और बृहस्पति मकर में और कुंभ राशि में संचार करेंगे। खुशी की बात यह है कि 2021 की वर्ष प्रवेश कुंडली में लग्नेश बुधव और चंद्रमा दोनों ही अच्छी एवं मजबूत स्थिति में रहेंगे, जिससे वैश्विक पटल पर सकारात्मक परिवर्तन और उन्नति लेकर आया। मजबूत चंद्रमा के प्रभाव से 2021 में पूरे उत्साह के साथ जीवन में आगे बढ़ेंगे। 2021 में लाभेश चंद्रमा का मजबूत होने से भारत सहित वैश्विक पटल पर आर्थिक स्थिति को मजबूत करेगा।


राष्ष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय स्तर पर अच्छे बदलाव होने के आसार हैं। भारतीय पंचांग के अनुसार 13 अप्रैल 2021 से हिन्दू नववर्ष का आरंभ होगा। जिसमें नए सम्वत का राजा और मंत्री दोनों पद मंगल के पास रहेंगे। बता दें कि राजा और मंत्री मंगल होने से 2021 में प्राकृतिक घटनाएं, आंधी-तूफान, अग्नि दुर्घटनाएं सामान्य से अधिक रहेंगी। मंगल के प्रभाव के कारण समाज में आपसी विवाद, राजनैतिक विवाद, अंतरराष्ट्रीय सीमा विवाद बढ़ेंगे।