वाराणसी। पूर्व भाजपा विधायक सुरेंद्र नारायण सिंह के ड्राइवर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ड्राइवर ने पूर्व विधायक के वेतन खाते से 30 लाख रुपये की खरीदारी की थी। पूर्व विधायक के ड्राइवर विवेक सिंह ने 2019 से 2021 के बीच इलेक्ट्रॉनिक्स, घरेलू, फैशन और खाने के सामान की खरीदारी की थी।

सुरेंद्र नारायण सिंह 2017 से 2022 तक बीजेपी विधायक रहे। पूर्व विधायक ने अपने खाते से पैसे निकालने की शिकायत साइबर क्राइम सेल में दर्ज कराई थी। आईजी रेंज के सत्यनारायण ने बताया कि सुरेंद्र नारायण सिंह की शिकायत पर मामला दर्ज कर वाराणसी रेंज की साइबर क्राइम शाखा ने विस्तृत जांच की और उसके परिणाम के आधार पर उनकेड्राइवर विवेक को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़े : Monthly Horoscope May 2022: ग्रहों का उलटफरे इन राशिवालों को आर्थिक लाभ दिलाएगा, इन राशियों के लिए जोखिम भरा रहेगा ये महीना


उसकी सूचना पर, साइबर क्राइम पुलिस ने दो स्मार्ट टीवी, डीजे के लिए बिजली के उपकरण, एम्पलीफायर, साउंड मिक्सिंग मशीन, स्टेबलाइजर्स, लाइट, लैपटॉप, कूलर, इन्वर्टर, बैटरी और आठ लाख रुपये से अधिक मूल्य के कई और सामान बरामद किए हैं। शुरूआती पूछताछ में विवेक ने खुलासा किया कि वह मिजार्पुर में चुनार थाने के चौकीदार के रूप में काम करता था और फरवरी 2018 में 9,000 रुपये के मासिक वेतन पर विधायक के ड्राइवर के रूप में नौकरी करने लगा। विधायक के लिए काम करते हुए, विवेक उनके परिवार के सदस्य की तरह बन गया था।

यह भी पढ़े : IPL 2022 में मुंबई इंडियंस को मिली पहली जीत, ईशान किशन ने कहा- यह समय एक-दूसरे के साथ खड़े रहने का है

सिंह ने अपने उस बैंक खाते का विवरण दिया था, जिसमें वह वेतन प्राप्त करते थे, साथ ही ड्राइवर को मोबाइल फोन भी दिया, जो एटीएम कार्ड से मोबाइल और दवाओं का भुगतान भी करता था। 2019 में उसने अमेजॉन, फ्लिपकार्ड सहित ऑनलाइन मार्केटिंग ऐप डाउनलोड किए और उन ऐप्स के साथ एटीएम कार्ड को लिंक कर ऑनलाइन खरीदारी कर पैसा खर्च करना शुरू कर दिया। वह विधायक के मोबाइल फोन पर ओटीपी प्राप्त करने के बाद अपने निजी पते पर ऑनलाइन खरीदे गए सामानों की डिलीवरी प्राप्त करता था। 2021 तक उसने विधायक के बैंक खाते से करीब 30 लाख रुपये खर्च किए।