दिल्ली उच्च न्यायालय ने हत्या के एक मामले में अभियोजन का सामना कर रहे और जेल में बंद एक व्यक्ति को मणिपुर सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी। अदालत ने कहा कि चूंकि परीक्षा 12 मई को होनी है, आरोपी को शनिवार को इकोनॉमी फ्लाइट से इंफाल ले जाया जाए और 13 मई को उसे वापस दिल्ली लाया जाए।

न्यायमूर्ति संजीव सचदेवा ने कहा, ‘‘जेल अधीक्षक को निर्देश दिया जाता है कि याचिकाकर्ता को इकोनॉमी फ्लाइट से इंफाल ले जाया जाए। याचिकाकर्ता की टिकट की राशि का भुगतान वह खुद ही करेगा। हालांकि याचिकाकर्ता के साथ जाने वाले अधिकारियों की यात्रा किराया का भुगतान दिल्ली सरकार का कारागार विभाग करेगा।’’

बेंजी ताखेल्लमबम ने इस आधार पर अंतरिम जमानत मांगी थी कि उसे 12 मई को सुबह दस से 12 और फिर दो से चार बजे तक प्रस्तावित मणिपुर सिविल सेवा (संयुक्त) प्रारंभिक परीक्षा 2019 में शामिल होना है। इसका परीक्षा केन्द्र इंफाल पश्चिम, मणिपुर के एक स्कूल में है।