कपड़ा व्यापारी के घर में फांसी लगाने वाली मेड की हालत स्थिर बनी हुई है। पुलिस ने दूसरे दिन भी उसका बयान लेना चाहा, लेकिन वह इस स्थिति में नहीं है कि बयान दर्ज करा सके। उधर, असम से युवती के परिजन भी नहीं पहुंच सके।

बता दें, कि आदर्श नगर निवासी कपड़ा व्यापारी हरीश करीब एक सप्ताह पहले दिल्ली की एक एजेंसी के माध्यम से असम के बृगो उदलगुरी की रहने वाली 19 वर्षीय सुनीता को मेड के काम के लिए लेकर आए थे। शनिवार सुबह वह फोन पर बात करती हुई ऊपर चली गई, जबकि बाकी लोग नीचे ही अपने काम में लगे थे। कुछ देर बाद पता चला कि सुनीता ने फांसी लगा ली। 

युवती का गंभीर हालत में निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। पुलिस ने युवती के परिजनों को भी सूचना भिजवा दी थी। अब पुलिस इंतजार कर रही है कि या तो युवती के परिजन कुछ बता सकते हैं या फिर भी युवती के बयान दर्ज होने के बाद ही पूरी कहानी का पता चलेगा। पीजीआइ थाने के कार्यवाहक प्रभारी एसआई कृष्ण ने बताया कि परिजनों के आने का इंतजार किया जा रहा है। तभी इस मामले में कुछ कहा जा सकता है।