अफगानिस्तान (Afganistan) में देखते ही देखते सरकार को उखाड़ फेंक तालिबान (Taliban) ने अपना राज स्थापित कर लिया। तालिबान ने ना सिर्फ वहां हुकूमत शुरू कर दी बल्कि अपनी सरकार भी बना ली। इस बीच शुरुआत में जिन लोगों से हो पाया, उन्होंने देश छोड़ दिया। लेकिन जब हवाई सर्विस पर तालिबान ने रोक लगा दी तो वहां फंसे लोगों को अपनी जान की चिंता होने लगी। तालिबान (Taliban) की हैवानियत से खौफजदा लोग अब उनके सजा देने के तरीकों को दुबारा से देख रहे हैं। हाल ही में अफगानिस्तान में चोरों को दी गई सजा की तस्वीरें (Taliban Cruel Punishment) शेयर की गई, जो वायरल हो रही हैं।

सोशल मीडिया पर शेयर की गई तस्वीरों में तीन लाशें जेसीबी से लटकी नजर आ रही हैं। इन्हें गोली मारने के बाद लटकाया गया था। तालिबानी (Talibani) प्रवक्ता ने बताया कि इन तीनों से एक शख्स के घर में घुसकर चोरी करने की कोशिश की थी। इसके बाद चोरों को पकड़कर गोली मार दी गई। लोगों को ये बताने के लिए कि तालिबान के राज में चोरी का क्या अंजाम होता है, अपराधियों की लाशों को जेसीबी से लटका दिया गया।

सोशल मीडिया पर इन तस्वीरों को अफगानिस्तान के एमनेस्टी इंटरनेशनल ग्रुप ने शेयर किया। फोटोज में तीन लाशें हवा में लटकी नजर आई। वहीं नीचे खड़े सैंकड़ों लोग इसे देख रहे थे। इन तस्वीरों से ये तो साफ़ हो गया है कि तालिबान अब भी वही है जिसने 1996 से 2001 के बीच अफगानिस्तान में हैवानियत की सारी हदें पार कर दी थी। भले ही तलिबान ने कहा था कि उसका तौर-तरीका बदल चुका है लेकिन अब इन तस्वीरों को देखकर ऐसा लग नहीं रहा है कि तालिबान में कोई बदलाव आया है।

कुछ ही समय पहले अफगानिस्तान (Afganistan) में तालिबान (Taliban) ने कब्ज़ा जमाया है। उसके बाद से देश के हालात काफी बदल गए हैं। कहा जा तरह है कि देश में महंगाई अपने चरम पर है। लोगों के पास भूखे मरने की नौबत आ गई है। कई लोग भूख से मारे जा चुके हैं। देश में खासकर महिलाओं की हालत दयनीय है। जहां एक तरफ कोरोना का प्रकोप चरम पर है, वहीं लोग भूखे मर रहे हैं। बता दें कि देश में जैसे ही तालिबान ने कब्ज़ा जमाया, लोगों की पहली कोशिश थी देश से बाहर भागने की। लेकिन जो वहां फंस गए, अब उन्हें तालिबानी नियमों को मानना पड़ रहा है।