नेडा अध्यक्ष डॉ. हिमंता विश्व शर्मा ने असम और पूर्वोत्तर में भाजपानीत गठबंधन की बड़ी जीत पर कहा है कि कांग्रेस पार्टी इतिहास के गर्भ में चली जाएगी और विपक्ष के रूप में दूसरा दल उभरेगा। 2019  का लोकसभा चुनाव परिणामों ने यह साफ कर दिया है कि गांधी परिवार को लेकर कांग्रेस पार्टी अब राजनीति नहीं कर पाएगी।

प्रदेश के 14  में से 9 सीटें और पूर्वोत्तर के 25 में से 18 सीटें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की झोली में डालने वाले नेडा अध्यक्ष ने शुक्रवार को कहा कि चुनाव परिणाम से साफ हो गया है कि राज्य की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास के साथ है। नागरिकता संशोधन विधेयक को राज्य के लोगों ने नकार दिया है। भाजपा के पक्ष में जनमत वैसे लोगों के लिए जवाब है जो चुनाव से ऐन पहले विधेयक के बहाने पार्टी को नुकसान पहुंचाने का षड्यंत्र कर रहे थे। उन्होंने कहा है कि विधेयक-विधेयक चिल्लाने वालों को यह समझ लेना होगा कि वे जितना विधेयक-विधेयक चिल्लाएंगे भाजपा का उतना ही अधिक वोट बढ़ेगा। नेडा अध्यक्ष ने कांग्रेस की परंपरागत सीट से भाजपा की स्मृति ईरानी की जीत  पर उन्हें बधाई देते हुए ट्वीट किया है कि मैं अमेठी कभी नहीं गया, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी को देखा हूं, मैंने पिछले  दिनों एक टेलीविजन पर साक्षात्कार में कहा था कि अमेठी से राहुल गांधी का हारना तय है।