देश का अब तक का सबसे बड़ा 8 बिलियन डॉलर का IPO लेकर आ रही Life insurance corp (एलआईसी) एंकर निवेशकों के लिए 11 मार्च को सबस्क्रिप्‍शन खोल सकती है। सूत्रों ने बताया कि IPO आम निवेशकों के लिए उसके बाद खुलेगा। सूत्रों ने बताया कि LIC IPO को मार्च के पहले हफ्ते में नियामक से मंजूरी मिल जाएगी। इसके बाद इसके प्राइस बैंड पर फैसला होगा।

सूत्रों ने कहा कि LIC की ओर से हालांकि अभी तक कोई बयान नहीं आया है। फाइनेंस मिनिस्‍ट्री के प्रवक्‍ता ने भी अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। सूत्रों ने बताया कि IPO लॉन्‍च में तब्‍दीली हो सकती है क्‍योंकि अब LIC समय पर सब काम निपटाने में भरोसा कर रही है।

सरकार ने की है 10 मर्चेंट बैंकरों की नियुक्ति

बता दें कि मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने बताया था कि सरकार की स्वामित्व वाली कंपनी एलआईसी के आईपीओ को केंद्र सरकार ने हरी झंडी दे दी है। इसके प्रबंधन के लिए सरकार ने 10 मर्चेंट बैंकरों की नियुक्ति भी की है।

बजट में निजीकरण से 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य

सुब्रमण्यम के मुताबिक एलआईसी की लिस्टिंग इस तिमाही में होगी। सुब्रमण्यम ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के बजट में निजीकरण से 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य है। सरकार ने एलआईसी के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के प्रबंधन के लिए गोल्डमैन सैश (इंडिया) सिक्योरिटीज, सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स इंडिया, नोमुरा फाइनेंशियल एडवाइजरी एंड सिक्योरिटीज सहित 10 मर्चेंट बैंकरों की नियुक्ति की है।

LIC Pan update करवाना जरूरी

इससे पहले एलआईसी पॉलिसीधारकों को विज्ञापन के जरिये अपने PAN को अपडेट करने की जानकारी दे रही थी, क्योंकि यह प्रस्तावित आईपीओ में भागीदारी के लिए अपने ग्राहक को जानिए (केवाईसी) के दृष्टिकोण से जरूरी है।