भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिजोरम में चुनाव प्रचार का आगाज कर चुके हैं। आइजोल के आर देंगथुआमा इंडोर स्टेडियम में एक रैली के दौरान शाह ने राज्य के मुख्यमंत्री लाल थनहवला पर ‘भ्रष्ट सरकार और वंशवादी शासन’ चलाने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार राज्य के लोगों को अपनी सेवाएं देने में विफल रही।


लोगों को संबोधित करते हुए शाह ने दावा किया कि थनहवला अपने छोटे बेटे को अगला मुख्यमंत्री बनाने की कोशिश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री के छोटे बेटे लाल थंजारा राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा मिजोरम में विपक्षी पार्टी मिजो नेशनल फ्रंट सहित किसी भी अन्य राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं करेगी। यह पार्टी नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक एलायंस (एनईडीए) का एक घटक है।


भाजपा ने 2016 में एनईडीए नाम का राजनीतिक गठबंधन किया था। इसमें नगा पीपल्स फ्रंट, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट, पीपल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल, असम गण परिषद और बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट शामिल थे। शाह ने कहा कि भाजपा मिजोरम की सभी 40 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। मिजोरम में 28 नवंबर को एक चरण में चुनाव होगा। चुनाव परिणाम की घोषणा 11 दिसंबर को अन्य चार राज्यों के चुनाव परिणामों के साथ की जाएगी।