श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के सिटी सेंटर में सोमवार दोपहर हुए आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान शहीद हो गया और एक अन्य घायल हो गया। इसके अलावा, दक्षिण कश्मीर में हुए दो अलग-अलग हमलों में एक कश्मीरी पंडित और दो गैर-स्थानीय मजदूरों के भी घायल होने की सूचना मिली है। अधिकारियों ने जानकारी देते हुए कहा कि आतंकवादियों ने शाम के करीब साढ़े तीन बजे मैसुमा इलाके में दो सीआरपीएफ के जवानों पर गोलीबारी की, जिनमें से एक गंभीर रूप से घायल है। 

एक अधिकारी ने कहा, 'गोलीबारी में सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। इस दौरान एक जवान ने दम तोड़ दिया।' शहीद सीआरपीएफ जवान की पहचान हेड कॉन्स्टेबल विशाल के रूप में हुई है। गोलीबारी के तुरंत बाद संयुक्त बलों ने हमलावरों को पकडऩे के लिए एक तलाश अभियान शुरू कर दिया। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा सहित कई राजनीतिक दलों ने श्रीनगर में सीआरपीएफ पर हुए हमले की निंदा की है। 

यह भी पढ़े : नवरात्रि को लेकर सियासी बवाल, दिल्ली में नवरात्रि के मौके पर आज से नहीं खुलेंगी मीट की दुकानें, असदुद्दीन ओवैसी बोले

सिन्हा ने ट्वीट कर कहा, 'नागरिकों और सीआरपीएफ के जवानों पर कायरतापूर्ण आतंकी हमले की कड़ी निंदा की जाती है। शहीद एचसी विशाल कुमार के परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना है और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। हमारे सुरक्षा बल इन घिनौंने हमलों की साजिश रचने वालों को मुंहतोड़ जवाब देंगे।' पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'इस बेहूदा हिंसा से सिर्फ मारे गए लोगों के परिवारों को दुख ही पहुंचता है।'' 

नेशनल कॉन्फ्रेंस ने ट्वीट कर कहा, 'श्रीनगर के मैसुमा में किए गए इस कायरतापूर्ण हमले की हम घोर निंदा करते हैं, जिसमें सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है। हम उनके परिवार और दोस्तों के प्रति अपनी संवदेना व्यक्त करते हैं। घायल हुए जवान के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।'' अपनी पार्टी के अध्यक्ष अल्ताफ बुखारी ने कहा कि हिंसा के ये कारनामें घृणित हैं और इससे स्थिति और भी खराब होगी। उन्होंने अपने बयान में कहा, 'इससे केवल एक को नुकसान ही पहुंचता है और बाकियों को भी दर्द होता है।' इस घटना के चंद घंटे पहले कश्मीर के पुलवामा जिले में बिहार से ताल्लुक रखने वाले दो गैर-स्थानीय मजदूरों पर गोली चलाई गई थी। 

यह भी पढ़े :लव राशिफल 5 अप्रैल: साथी की तलाश कर रहे लोगों को तलाश होगी पूरी , रिश्ते में आगे बढ़ें, सफलता मिलेगी 

पुलवामा के लिजोरा इलाके में दोपहर को इस घटना को अंजाम दिया गया था। अधिकारियों ने कहा कि आतंकवादियों ने पुलवामा के लजूरा इलाके में बिहार के निवासी पातालेश्वर कुमार और जक्कू चौधरी के रूप में पहचाने गए दो गैर स्थानीय मजदूरों पर हमला किया। प्रवक्ता ने कहा, 'गोली लगने से दोनों मजदूर घायल हो गए और उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है' इस घटना के तुरंत बाद हमलावरों को धर दबोचने के लिए सुरक्षा बलों ने इलाके में तलाशी अभियान की शुरुआत की। 

इसके अलावा, रविवार शाम को पंजाब के पठानकोट निवासी धीरज दत्त और सुरिंदर सिंह के रूप में पहचाने गए दो मजदूरों पर पुलवामा के नौपोरा लिटर इलाके में गोलीबारी की गई थी। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों ने सोमवार को गोली मार कर एक कश्मीरी पंडित को भी घायल कर दिया।