केंद्र सरकार के साथ ही कई राज्य सरकारें भी किसानों की आर्थिक सहायता के लिए स्कीम चला रही हैं जिनका काफी लाभ मिलता है। इन योजनाओं से सरकार छोटे किसानों को आर्थिक मदद देती है।

ऐसी ही तेलंगाना की केसीआर सरकार रायथु बंधु योजना (Rythu Bandhu Scheme) योजना है जिसके तहत किसानों के बैंक खातों में 10 हज़ार रुपये जमा कराती है। फसल के दोनों सीजन रबी और खरीफ शुरू होने से पहले सरकार 5000 रुपये किसानों के खाते में भेजती है।

इसकी वजह से तेलंगाना राज्य के किसानों को डबल फायदा मिलता है। उन्हें राज्य सरकार से 10 हजार रुपये सालाना और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत केंद्र सरकार से साल में 6000 रुपये मिलते हैं। इस वजह से तेलंगाना के किसानों को रायथु बंधु योजना के साथ-साथ पीएम किसान सम्मान निधि का भी लाभ मिलता है।

PM Kisan योजना के तहत 6000 रुपए सालाना मिलते हैं। इसे 2 हजार रुपए की तीन बराबर किस्तों में भेजा जाता है। ऐसे में इन दोनों योजनों की मदद से तेलंगाना के किसानों को साल में कुल 16 हजार रुपए मिल जाते हैं।

रायथु बंधु योजना 2018 में शुरू की गई थी, तब राज्य सरकार रबी और खरीफ दोनों मौसमों के लिए प्रति वर्ष 8,000 रुपये प्रति एकड़ प्रदान करती थी। 2019 से इस राशि को बढ़ाकर 10,000 रुपये कर दिया गया था।

Rythu Bandhu Scheme के तहत उन किसानों को लाभ प्रदान किया जाता है जो अपने खुद के खेत के मालिक हैं जो लोग किराये की जमीन पर खेती कर रहे हैं, उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलता।