बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने विपक्षी विधायकों की पिटाई को लेकर फिर से सवालों का अबांर लगा दिया है। बिहार की सदन में हुई विधायकों की पिटाई ने देश में अलग तरह की राजनीति शुरू कर दी है। तेजस्वी ने विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा को पत्र लिखकर न सिर्फ सरकार और मुख्यमंत्री पर सीधा आरोप लगाया है बल्कि दोषी अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई करने और पद से बर्खास्त करने की मांग की है।


जानकारी के लिए बता दें कि तेजस्वी यादव ने 23 मार्च 2021 को बिहार सदन में हुई घटना को जलियांवाला बाग कांड करार दिया है। तेजस्वी ने कहा कि जिस तरह से जलियांवाला बाग कांड में लोगों को बर्बरता से मारा गया था आज ठीक उसी तरह से उनके विधायकों के साथ भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर सदन के भीतर लात-घूंसों और डंडों से बहुत बेरहमी से पीट गया है।


तेजस्वी का मुख्यमंत्री पर सीधा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही बेहद शर्मनाक है। उन्होंने आगे कहा कि लोकतंत्र के मंदिर में सदन के सदस्यों के साथ जो सुलूक हुआ उससे बिहार की छवि धूमिल हुई है। इन विधायकों को करोड़ों जनता चुनकर सदन पहुंचाती है, ऐसे में इनको लात-घूंसों से पीटकर जनता का भी अपमान किया है। तेजस्वी ने विधानसभा अध्यक्ष से गुजारिश की है कि वह दोषी अधिकारियों को बर्खास्त करें।