राजस्थान के भरतपुर में एक टीचर ने स्टूडेंट को थप्पड़ मार दिया तो स्टूडेंट के फौजी पिता ने स्कूल में फायरिंग कर दी। गनीमत यह रही कि इस फायरिंग में किसी की मौत नहीं हुई। हालांकि स्कूल मालिक की पत्नी गोली लगने से घायल हो गई और अब उसका इलाज चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक, भरतपुर के कामां थाना इलाके में एक फौजी ने बेटी के चांटा मारने का बदला लेने को लेकर स्कूल में फायरिंग कर दी। फौजी ने स्कूल के मालिक के ऊपर गोली चलाई लेकिन स्कूल मालिक की पत्नी अपने पति को बचाने के लिए बीच में आ गई और वह घायल हो गई। 

मामला कामां थाना इलाके के कनवाड़ा गांव में स्थित जय बजरंग पब्लिक (Jai Bajrang Public School)  स्कूल है। स्कूल की सातवीं कक्षा में एक गंगा नाम की लड़की पढ़ती है। करीब 20 दिन पहले गंगा को स्कूल से होमवर्क मिला था लेकिन वह होमवर्क पूरा नहीं करके लाई तो एक टीचर ने गंगा के थप्पड़ मार दिया। गंगा के पिता फतेहगढ़ आर्मी सेंटर में तैनात हैं। वह सोमवार को छुट्टी लेकर अपने घर पहुंचे। उन्हें गंगा ने बताया कि उसे स्कूल में एक टीचर ने थप्पड़ मार दिया था। 

बेटी की पिटाई की बात सुनकर फौजी पप्पू गुर्जर गुस्से आग बबूला हो गए और अपनी लाइसेंसी की बन्दूक लेकर स्कूल पहुंच गए। स्कूल पहुंचने पर फौजी पप्पू गुर्जर ने तुरंत स्कूल के मालिक सुरेंद्र पर बंदूक तान दी। फौजी ने जैसे ही सुरेंद्र पर बंदूक से फायर किया तभी उसकी पत्नी राजबाला बीच में आ गई। गोली सीधे राजबाला के हाथ में लगी। गोली मारने के बाद फौजी स्कूल से फरार हो गया। घायल राजबाला को तुरंत कामां के अस्पताल में लाया गया, जहां उनका इलाज जारी है। 

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस अस्पताल पहुंची और पूरी घटना की जानकारी ली। राजबाला की शिकायत के बाद पुलिस ने फौजी पप्पू गुर्जर के घर पर दबिश मारी लेकिन वह घर पर नहीं मिला। घायल महिला को कामां के राजकीय अस्पताल लाया गया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। पुलिस मामला दर्ज करने के बाद मामले की जांच में जुट गई है।