राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, "तरुण गोगोई एक सच्चे कांग्रेसी नेता थे. उन्होंने अपना जीवन असम के सभी लोगों और समुदायों को एक साथ लाने के लिए समर्पित कर दिया।  मेरे लिए, वह एक महान और बुद्धिमान शिक्षक थे. मैं उन्हें बहुत प्यार करता था और उनका सम्मान करता था।  मैं उन्हें मिस करूंगा।  गौरव और परिवार के प्रति मेरा प्यार और संवेदना."

असम के मुख्यमंत्री ने  कहा था कि तरुण गोगोई मेरे पिता समान हैं।  मैं उनके स्वास्थ्य में सुधार के लिए प्रार्थना करता हूं।  उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'बीच में सारे कार्यक्रम रद्द कर डिब्रूगढ़ से गुवाहाटी जा रहा हूं ताकि तरुण गोगोई और उनके परिवार के साथ रह सकूं क्योंकि पूर्व मुख्यमंत्री की तबीयत बिगड़ गई है।  आपको बता दे कि तरुण गोगोई साल 2001 से 2016 तक असम के मुख्यमंत्री थे। 

आपको बता दें कि असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का सोमवार शाम निधन हो गया।  उनकी उम्र 84 साल और 8 महीने की हो चुकी थी।  वह अस्पताल में भर्ती थे।  उन्होंने गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में सोमवार शाम अंतिम सांस ली।  बता दें कि उनकी स्थिति पहले से ही नाजुक चल रही थी।  यही वजह है कि राज्य के सीएम अपना डिब्रूगढ़ दौरा बीच में ही छोड़ गुवाहाटी वापस लौट आए । 

ताजा जानकारी के मुताबिक राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल जीएमसीएच पहुंचे और तरुण गोगोई के पार्थिव शरीर पर श्रद्धांजलि अर्पित की।  इस बात की जानकारी सोनोवाल ने खुद ट्वीट कर दी है।  अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि जीएमसीएच में हजारों लोगों के साथ पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के नश्वर शरीर को अंतिम श्रद्धांजलि अर्पित की।