असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोर्इ ने मंगलवार को विधानसभा में पेश बजट चर्चा में हिस्सा लेते हुए वित्त मंत्री हिमंत विस्वा सरमा पर निशाना साधा है। गोगोर्इ ने कहा कि अगर मेरे शासन के दौरान पेश बजट का दस फीसदी भी काम नहीं हुआ है, इसका मतलब यह हुआ कि हिमंत ने उस दौरान कुछ काम ही नहीं किया। साथ ही उन्होंने कहा कि जनता इस बात को जानती है आैर मुझे उम्मीद है कि ये असम में भाजपा सरकार की असलियत को सामने लाने में मदद करेगी।


बता दें कि इससे पहले वित्त मंत्री ने कहा था कि तरूण गोगोर्इ के शासन के दौरान पेश बजट में 10 फीसदी भी काम नहीं हुआ था। इस पर तरुण गोगोर्इ ने पलटवार किया। मंगलवार को सदन में पेश बजट के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री ने कटाक्ष करते हुए कहा कि ठीक है मान लेता हूं कि मेरे शासन काल के समय जीरो फीसदी काम हुआ था, लेकिन उस समय हिमंत ने ही कहा था कि बजट सर्वश्रेष्ठ है। क्या तब हिमंत ने गलत बाेला था या अब हिमंत गलत बोल रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि वह गलत हैं? वे अब मुख्यमंत्री सोनोवाल की प्रशंसा करने में लगे हुए हैं।

उन्होंने कहा आगे वे किसकी प्रशंसा करेंगे इसका कोर्इ पता नहीं है। इसके अलावा गोगोर्इ ने कहा कि सरकार भाग्यशाली है क्योंकि अच्छी वित्तिय अवस्था में सत्ता में है।पेश किए गए बजट में खामियां गिनाते हुए कहा कि हिमंत के द्वारा पेश किया गया बजट नौकरी उन्मुख आैर विकासोन्मुख है।