भारत में एक जगह ऐसी भी है जहां कोरोना वायरस का टीका लगवाने वालों को सोने के सिक्के, मिक्सर ग्राइंडर, स्कूटी, वॉशिंग मशीन आदि कीमती तोहफे दिए जा रहे हैं। यह जगह तमिलनाडु राज्य है जहां वैक्सीनेशन ड्राइव की रफ्तार देने के लिए मुफ्त उपहारों का सहारा लिया जा रहा है। राज्य के कोवलम में एक संस्था वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों को तरह-तरह के गिफ्ट बांट रही है। एनजीओ की ओर से एक प्लेट बिरयानी और मोबाइल रिचार्ज का कूपन दे दिया जा रहा। इसके अलावा साप्ताहिक लकी ड्रा में बंपर प्राइज भी निकाला जा रहा है। लकी ड्रॉ के विजेता सोने के सिक्के, मिक्सर ग्राइंडर, स्कूटी, वॉशिंग मशीन जीत सकते हैं। बता दें कि मछुआरे बहुल कोवलम की आबादी 14,300 है। इनमें 18 साल या उससे अधिक आयु के 6400 लोग रहते हैं। संस्था का कहना है कि उनकी यह योजना लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रही है।

दरअसल, कोरोना संक्रमण के बाद इलाके में टीकाकरण अभियान सुस्त गति से चल रहा था, शुरू में यहां पर इलाके के 50-60 लोगों ने ही वैक्सीन लगवाई थी, लेकिन एनजीओ की ओर से शुरू हुई पहल के बाद केंद्रों पर भीड़ लगनी शुरू हो गई। एक हफ्ते में 650 से अधिक लोग पहली डोज ले चुके हैं। साथ ही 700 से अधिक लोगों की एडवांस बुकिंग है। ग्रामीणों का कहना है कि वैक्सीन को लेकर हम असमंजस की स्थिति में थे, लेकिन एनजीओ ने वैक्सीन को लेकर फैले भ्रम को दूर कर लोगों को प्रोत्साहित किया है। अब हम लोग पूरे परिवार के साथ जाकर वैक्सीन लगवा रहे हैं।

कोवलम को कोरोना मुक्त बनाने की यह पहल एसटीएस फाउंडेशन, सीएन रामदास ट्रस्ट और न्यूयॉर्क की संस्था चिराग की है। सीएन रामदास ट्रस्ट में डॉन बॉस्को स्कूल के 1992 बैच के पूर्व छात्र हैं और न्यूयॉर्क में संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉक्टर राजीव फर्नांडो ने चिराग की स्थापना की है।