29 का युवक अपने सपनों की बाइक खरीदने के लिए वैन में सिक्के भरकर शो रूम पहुंच गया। इन सिक्कों को गिनने में शोरुम कर्मचारियों को 10 घंटे का समय लगा। बता दें कि वी बूपति ने बजाज डोमिनार 400 खरीदने के लिए तीन साल तक पैसे जमा किए थे। 

ये भी पढ़ेंः CM बीरेन सिंह ने डांस करती हुई छोटी सी बच्ची का बहुत ही प्यारा सा वीडियो किया शेयर, देखते ही दिल हो जाएगा खुश


शोरूम के प्रबंधक महाविक्रांत ने कहा कि वह पहले सिक्कों में पैसे स्वीकार करने से हिचक रहे थे, लेकिन उन्होंने हार मान ली क्योंकि वह बूपति को निराश नहीं करना चाहते थे। महाविक्रांत कहा कि इन सिक्कों को बैंक में जमा करवाना काफी मुश्किल काम था, लेकिन उन्होंने कहा कि बूपति के हाई-एंड बाइक खरीदने के सपने को देखते हुए मैंने आखिरकार स्वीकार कर लिया। बूपति, उसके चार दोस्तों और शोरूम के पांच कर्मचारियों ने सिक्कों की गिनती की। बूपति को आखिरकार शनिवार रात करीब नौ बजे अपनी बाइक मिल गई।

ये भी पढ़ेंः मोदी सरकार ने लोकसभा में पेश किया ऐसा विधेयक मच गया हंगामा, हमलावर हुआ विपक्ष


शहर के अम्मापेट स्थित गांधी मैदान के रहने वाले बूपति एक निजी कंपनी में कंप्यूटर ऑपरेटर का काम करते हैं। वह एक YouTuber भी हैं, जिन्होंने पिछले चार वर्षों में कई वीडियो पोस्ट किए हैं। बूपति ने कहा कि उन्होंने तीन साल पहले बाइक की कीमत के बारे में पूछताछ की थी और बताया गया था कि यह 2 लाख थी। उस समय मेरे पास इतना पैसे नहीं थे। बूपति ने बताया कि मैंने YouTube चैनल से अर्जित पैसों को बचाने का फैसला किया। उन्होंने कहा, मैंने हाल ही में बाइक की कीमत के बारे में पूछताछ की और पता चला कि यह अब 2.6 लाख रुपए की थी।