तमिलनाडु के नए नियुक्त किए गए BJP अध्यक्ष अपने बयान को लेकर चर्चा की वजह बन गए हैं। प्रदेश अध्यक्ष अन्नामलाई ने मीडिया को लेकर अजीबो-गरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगले छह महीने के भीतर वो मीडिया पर कंट्रोल कर लेंगे। BJP प्रदेश अध्यक्ष के इस कमेंट के बाद तमिलनाडु के राजनीतिक गलियारों में विवाद पैदा हो गया है।

अन्नामलाई के शब्दों की आलोचना कते हुए राज्य के आईटी मंत्री ने कहा कि मीडिया को स्वतंत्र तरीके से काम करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि अन्नामलाई मीडिया को एक पार्टी के पक्ष में करने की कोशिश कर रहे हैं।

अन्नामलाई ने कहा था कि अगले छह महीनों में हम मीडिया को कंट्रोल करेंगे, इसलिए चिंता न करें। कोई भी मीडिया हर समय झूठी खबर नहीं चला सकता। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सूचना प्रसारण मंत्री बन गए हैं, ऐसे में सारा मीडिया उनके अंडर आ जाएगा। गलतियां लगातार नहीं हो सकतीं और आप इसके साथ राजनीति नहीं कर सकते।

अन्नामलाई का ये बयान हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल के दौरान तमिलनाडु के पूर्व भाजपा प्रमुख एल मुरुगन को सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री नियुक्त किए जाने के बाद आया है। BJP के प्रदेश अध्यक्ष अन्नामलाई कोयंबटूर से चेन्नई तक सड़क के जरिए यात्रा करते हुए पार्टी नेताओं के साथ मिल रहे हैं। ऐसे में पब्लिक गैदरिंग को रोकने के लिए कोविड प्रोटोकॉल लागू करने के लिए अधिकारियों को कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

तमिलनाडु उन छह राज्यों में शामिल है जहां कोरोना के हालात सुधरे नहीं है। ऐसे में पीएम मोदी आज 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग कर रहे हैं। इन राज्यों में आंध्र प्रदेश , कर्नाटक, केरल , ओडिशा  और महाराष्ट्र के साथ तमिलनाडु भी शामिल है।