काबुल। अफगान महिला हास्य कलाकार नदीमा (Afghan female comedian Nadeema) 25 दिन से कथित तौर पर काबुल से लापता है। एक रिश्तेदार ने यह जानकारी दी। नदीमा को पटिंगारा काकाई के नाम से भी जाना जाता है। वह एक प्रसिद्ध हास्य कलाकार हैं। वह मजेदार वीडियो बनाती है और उन्हें टिकटॉक, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर पोस्ट करती है।

रिश्तेदार ने रविवार को टोलो न्यूज को बताया कि वह अपने कार्यालय से लापता हो गई थी और उसके बाद से उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। तालिबान शासन ने अभी तक लापता होने पर कोई टिप्पणी नहीं की है। इस बीच, शुक्रवार को लापता हुए अफगान प्रोफेसर सैयद बाकिर मोहसिनी के परिवार के एक सदस्य ने टोलो न्यूज को बताया कि उसे रविवार को रिहा कर दिया गया।

यह भी पढ़ें- स्टेडियम के समीप 'बम है अंदर' लिखा पैकेट देखकर मची अफरा-तफरी, जानिए पूरा मामला

इन दो हाई-प्रोफाइल शख्सियतों के लापता होने को अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ-साथ सोशल मीडिया पर अफगानों की व्यापक प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ा। एमनेस्टी इंटरनेशनल के सदस्य समीरा हमीदी ने रविवार को एक ट्वीट में कहा, 'तालिबान के आलोचकों, पत्रकारों और कार्यकर्ताओं के लापता होने और हिरासत में लिए जाने का सिलसिला जारी है। सैयद बाकिर मोहसिनी और नदीमा को तालिबान ने अपने कब्जे में ले लिया है और उनके ठिकाने के बारे में कोई जानकारी नहीं है। यह तानाशाहों और दमनकारियों का एक समूह है, जिन्हें कभी भी मान्यता और समर्थन नहीं दिया जाना चाहिए।'

यह भी पढ़ें- विश्व चैंपियनशिप और एशियाई खेलों में नहीं उतरेंगी मैरीकॉम, जानिए क्या है वजह

राजनीतिक विशेषक सैयद जवाद सिजादी ने कहा, राजनीतिक, नागरिक और मीडिया कार्यकर्ताओं की हिरासत कानून के खिलाफ है और बुनियादी अधिकारों का उल्लंघन है। कानूनी व्यवस्था के आधार पर कोई भी नजरबंदी होनी चाहिए।