ताइवान के हुआलिन काउंटी में शुक्रवार को ट्रेन के पटरी से उतरने से कम से कम 48 लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी और बताया कि 72 यात्री अभी भी फंसे हुए हैं। ताइवान न्यूज के अनुसार, ताइवान रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन (टीआरए) नंबर 408 तारोको ट्रेन शूलिन, न्यू ताइपे से ताइतुंग की ओर जा रही थी, तभी सुबह 9.28 बजे (स्थानीय समयानुसार) ये अचानक तब पटरी से उतर गई, जब इसने दाकिंगशुई सुरंग में प्रवेश किया। ट्रेन में 350 से अधिक यात्री सवार थे।

हादसा ताइवान के चार दिवसीय टॉम्ब स्वीपिंग फेस्टिवल के पहले दिन हुआ। राष्ट्रीय अग्निशमन एजेंसी के मुताबिक, 41 लोग मारे गए और कम से कम 61 लोग घायल हुए, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। एक प्रारंभिक जांच के अनुसार, पास की एक सुरंग परियोजना में मजदूरों ने अनुचित रूप से एक वाहन को पार्क किया था। ताइवान न्यूज के अनुसार, जैसे ही ट्रेन गुजरी, वाहन ढलान पर लुढक़ गया और ट्रेन से टकरा गया। अभियोजकों ने कथित तौर पर सुरंग परियोजना के प्रभारी से पूछताछ की है कि वाहन ठीक से पार्क क्यों नहीं किया गया था। समाचार एजेंसी डीपीए ने बताया कि प्रीमियर सु सेंग-चांग ने यात्रियों से माफी मांगी और पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

सु ने ताइपे में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मृतकों के परिवारों और घायल हुए यात्रियों के प्रति मैं गहरी संवेदना व्यक्त करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि वह तुरंत हुआलिन के लिए ताइअपे से रवाना होंगे। राष्ट्रपति साई इंग-वेन ने अधिकारियों को अपनी बचाव गतिविधियों को जारी रखने और दुर्घटना के कारणों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। ताइवान में आखिरी बड़ी रेल दुर्घटना अक्टूबर 2018 में हुई थी, जब 18 लोगों की मौत हो गई थी।