केएल राहुल (KL Rahul) ने शुक्रवार को दुबई में जबरदस्त तूफानी पारी खेली। उन्होंने स्कॉटलैंड के खिलाफ 19 गेंदों पर 50 रन ठोक डाले। इस ताबड़तोड़ पारी की मदद से भारत ने स्कॉटलैंड को 8 विकेट से हरा दिया। अब इस जीत से टीम इंडिया की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा हो गई हैं। भारत की जीत के साथ-साथ राहुल की बैटिंग की भी चर्चा हो रही है। राहुल बैटिंग जिस अंदाज से बेटिंग कर रहे थे वो युवराज सिंह के 14 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ने वाले लग रहे थे। लेकिन ऐसा नहीं हो सका।

आपको बता दें कि 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप (T20 world cup) में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने इंग्लैंड के खिलाफ डरबन के मैदान में सिर्फ 12 गेंदों पर 50 रन बना डाले थे। इसी मैच में उन्होंने स्टुअर्ड ब्रॉड के एक ही ओवर में 6 छक्के लगाने का कारनामा भी किया था। पिछले 14 साल से युवराज का टी-20 में सबसे तेज़ हाफ सेंचुरी लगाने के इस रिकॉर्ड पर राज है।

स्कॉटलैंड के खिलाफ केएल राहुल ने 18 गेंदों पर 50 रन पूरे किए यानी युवराज सिंह से 6 गेंद ज्यादा खेले। राहुल ने अपनी पारी के दौरान 6 चौके और 3 छक्के लगाए। इस बाउंड्री से उन्होंने कुल 42 रन बनाए। जबकि युवराज सिंह ने 6 छक्के और 3 चौके लगाए थे यानी उन्होंने बाउंड्री पर 48 रन लिए थे। युवराज ने सिर्फ 2 रन दौड़ कर बनाए थे। लेकिन राहुल अब टी-20 इंटरनेशनल में सबसे तेज़ हाफ सेंचुरी लगाने की दौड़ में दूसरे भारतीय बन गए हैं।