मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर गलत बयान देने के मामले में टुन्ना पांडेय को भाजपा ने अपनी पार्टी से निलंबित कर दिया है। अब टुन्ना पांडेय को आरजेडी की ओर से पार्टी में शामिल होने के लिए ऑफर दिया गया है। आज को सिवान के व्हाइट हाउस में आरजेडी विधायक हरिशंकर यादव ने कहा कि टुन्ना पांडेय जब चाहें आरजेडी के साथ आ सकते हैं।

हरिशंकर यादव ने कहा कि टुन्ना पांडेय के भाई बच्चा पांडेय भी आरजेडी के विधायक हैं। ऐसे में टुन्ना पांडेय का भी पार्टी में स्वागत है। बता दें कि ऑफर देने वाले विधायक हरिशंकर यादव सिवान के रघुनाथपुर विधानसभा क्षेत्र से आरजेडी के विधायक हैं।

गौरतलब है कि बीजेपी में रहकर एमएलसी टुन्ना पांडेय ने कहा था कि नीतीश कुमार हमारे नेता नहीं हैं, बिहार के मुख्यमंत्री हैं। 2009 के घोटालेबाज हैं सीएम नीतीश कुमार और वे परिस्थितियों के मुख्यमंत्री हैं। उन्हें हर हाल में जेल भिजवाकर रहेंगे। इन सारे बयानों के बाद से बिहार की सियासत तेज हो गई थी। जेडीयू के लोगों ने टुन्ना पांडेय पर कार्रवाई करने की मांग करने लगे।
इसके बाद टुन्ना पांडेय को 10 दिनों का समय देकर पार्टी ने जवाब देने के लिए नोटिस भेजा, लेकिन इसके बाद भी टुन्ना पांडे का तेवर बढ़ता गया। इसके बाद पार्टी ने टुन्ना पांडेय को निष्कासित कर दिया। बताया जाता है कि टुन्ना पांडेय बीजेपी में रहकर भी शहाबुद्दीन और उनके परिवार से काफी करीब रहे हैं। यह बात टुन्ना पांडेय भी मीडिया के सामने बताते रहे हैं कि शहाबुद्दीन और उनके परिवार वालों से उनका व्यक्तिगत संबंध काफी अच्छा है।
दरअसल, अगले साल एमएलसी का चुनाव होने वाला है और अब टुन्ना पांडेय के लिए आरजेडी का दरवाजा खुल गया है। टुन्ना पांडेय ने एक तरफ लालू परिवार तो दूसरी तरफ शहाबुद्दीन के परिवार से पकड़ बनाकर रखा है। ऐसा माना जा रहा है कि टुन्ना पांडेय आरजेडी में आते हैं तो वो सिवान से एमएलसी चुनाव में उम्मीदवार भी बनाए जा सकते हैं।