बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस में एक बार फिर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की जांच तेज हो गई है। इस मामले में ईडी के हाथ सुशांत को किए गए करोड़ों रुपये की पेमेंट को लेकर एक सुराग लगा है। सूत्रों के मुताबिक सुशांत को उनकी एक फिल्म के लिए संदिग्ध पेमेंट किया गया था। ये रकम 17 करोड़ रुपये बताई जा रही है।

सूत्रों के अनुसार इस पेमेंट को लेकर जांच चल रही है। 17 करोड़ रुपए का यह पेमेंट 2017 में सुशांत की फिल्म राब्ता के लिए किया गया था। ईडी फिल्म के प्रोड्यूसर दिनेश विजान से पिछले महीने इस बारे में पूछताछ कर चुकी है। दिनेश को पेमेंट संबंधी कुछ कागजात जमा करने को कहा गया था। हालांकि वे हंगरी में शूट हुए फिल्म के ओवरसीज शूट बजट की डिटेल जमा नहीं कर पाए थे।

ओवरसीज शूटिंग के लिए फिल्म निर्माताओं को पेमेंट के तौर पर कुछ रकम दी जाती है और यह संबंध‍ित देश में शूटिंग पर खर्च किए गए कुल बजट का लगभग 20 प्रतिशत हो सकता है। इसे ओवरसीज पेमेंट पक्र्स कहा जाता है। एजेंसी को शक है कि प्रोड्यूसर्स विदेशी सरकारों को खासकर यूरोप‍ियन देशों की सरकार को ज्यादा खर्च का ब्यौरा दिखाती है ताकि अध‍िक से अध‍िक पेमेंट का लाभ उठाया जा सके और इन पैसों को फिल्म के एक्टर्स की पेमेंट भगुतान के लिए इस्तेमाल कर सकें। एजेंसी को संदेह है कि इन पैसों को संबंध‍ित देश के हवाला चैनल्स के माध्यम से भारत में भेजा जाता है।