एम्स के डॉक्टरों ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझा दी है। सुशांत की हत्या नहीं बल्कि आत्महत्या करने से मौत हुई है। लेकिन मीडिया के आत्महत्या को हत्या का करार देते हुए कई तरह के झूठ का सहारा लिया है।  सुशांत सिंह राजपूत की मौत के 'झूठ' से किन लोगों को फायदा हुआ है। उन लोगों को एम्स ने बेनाकाब कर दिया है।


AIIMS की फोरेंसिक रिपोर्ट ने सुशांत राजपूत की मौत की गुत्थी को सुलझाकर CBI को रिपोर्ट दे दी है। जो ये बताती है कि सुशांत सिंह राजपूत की मुंबई में उनके घर आत्महत्या की है। बता दें कि सुशांत के परिवारजन इस रिपोर्ट की खिलाफ सवाल उठा रहे हैं। इस रिपोर्ट पर सुशांत केस के वकील भी कई सवाल एम्स के डॉक्टरों पर दागे हैं।

सब ये जानना चाहते हैं कि रिपोर्ट भले ही सही हो लेकिन सुशांत को आत्महत्या के लिए किसने उकसाया यही नहीं सुशांत की खुदकुशी के पीछे ड्रग्स गैंग का हाथ हो सकता है। मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि मुंबई पुलिस की जांच पर बेवजह उंगलियां उठाई गई। लेकिन एम्स रिपोर्ट ने साबित कर दिया कि मुंबई पुलिस ने जो जांच की थी वो सही थी।