सूर्य ग्रहण (solar eclipse) का प्रत्येक व्यक्ति पर किसी न किसी रूप में प्रभाव जरूर पड़ता है। ज्योतिष के अनुसार आज 4 दिसंबर को यह सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि में ज्येष्ठा नक्षत्र में लग रहा है। क्योंकि  ये ग्रहण वृश्चिक राशि में लग रहा है, इसलिए इस राशि वाले लोगों को विशेष रूप से ध्यान देना होगा। इस ग्रहण का प्रभाव उनके ऊपर सबसे ज्यादा होगा और ज्येष्ठा नक्षत्र में जन्मे लोगों को मुख्य रूप से सभी सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

यह सूर्य ग्रहण विशेष रूप से वृश्चिक राशि में लग रहा है, इसलिए इस राशि के जातकों को अपने स्वास्थ्य का सर्वाधिक ध्यान रखना होगा। वित्त संबंधित समस्याएं ज्यादा परेशान कर सकती हैं। मानसिक तनाव और किसी भी प्रकार की दुर्घटना के प्रति सतर्कता रखें। अपने उद्देश्यों को समझकर प्राथमिकताओं को निर्धारित करना आवश्यक होगा, अन्यथा कार्य में विलंब और रुकावट आ सकती है।

भारतीय समय (IST) के अनुसार, सूर्य ग्रहण सुबह 10 बजकर 59 मिनट पर शुरू हो रहा है जो दोपहर 3 बजकर 07 मिनट पर समाप्त होगा। यह सूर्य ग्रहण अंटार्कटिका के अलावा दक्षिण अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और दक्षिणी अटलांटिक के देशों से दिखाई देगा। इस ग्रहण को भारत में नहीं देखा जा सकेगा।

इन कार्यों को करने से बचें
- सूर्य ग्रहण के दौरान भोजन करने से परहेज करें।
- सूर्य ग्रहण के दौरान किसी भी मूर्ति को स्पर्श नहीं करें।
- ग्रहण के दौरान किसी भी विशेष मंत्र जाप कर सकते हैं।
- ग्रहण काल में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।
- गर्भवती महिलाएं ग्रहण काल में घर से बाहर नहीं निकलें।
- ग्रहण काल के दौरान किसी भी प्रकार का काटना, सिलना, सोना, आदि कार्य नहीं करें।