NEET 2020 यानी मेडिकल यूजी प्रवेश परीक्षा नीट को लेकर अब भी संशय की स्थिति बनी हुई है।देशभर में इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन का संचालन जारी है। आज परीक्षा का चौथा दिन है। 6 सितंबर तक यह परीक्षा खत्म हो जाएगी।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा जारी शेड्यूल के अनुसार, नीट का आयोजन 13 सितंबर 2020 को किया जाना है। लेकिन अब भी इस परीक्षा को स्थगित करने की मांग जारी है। एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में यह मामला पहुंच गया है। आज कोर्ट इसपर सुनवाई करेगा।

बीते शुक्रवार गैर-बीजेपी शासित 6 राज्यों के कैबिनेट मंत्रियों ने सुप्रीम कोर्ट में संयुक्त याचिका लगाई थी। इसमें सुप्रीम कोर्ट से अपील की गई है कि वह नीट-जेईई मेन पर अपने उस फैसले की समीक्षा करे, जिसमें कोर्ट ने इन परीक्षाओं के आयोजन को सही ठहराते हुए संचालन की अनुमति दी थी।

जेईई मेन तो शुरू हो चुका है। अब कोर्ट नीट पर समीक्षा करेगा। आज जस्टिस अशोक भूषण, बीआर गवई और कृष्ण मुरारी की बेंच वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस समीक्षा याचिका पर सुनवाई करेगी।

परीक्षा टालने की अपील देश के 6 राज्यों के मंत्रियों ने लगाई है। ये सभी वे राज्य हैं जहां भाजपा की सरकार नहीं है। महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और झारखंड के कैबिनेट मंत्रियों ने कोरोना वायरस (Covid-19) महामारी का हवाला देते हुए परीक्षा स्थगित करने की मांग की है।

बता दें कि इस बार नीट यूजी (NEET UG 2020) की परीक्षा के लिए करीब 15.97 लाख स्टूडेंट्स ने आवेदन किया है। यह परीक्षा पेन-पेपर मोड पर एक ही दिन एक ही शिफ्ट में ली जाएगी। इसके लिए एनटीए ने देशभर में 3,843 परीक्षा केंद्र बनाए हैं।