महान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कानपुर टेस्ट (Kanpur Test) की दूसरी पारी में न्यूजीलैंड की धीमी बल्लेबाजी को लेकर आलोचना (Sunil Gavaskar slams New Zealand) की है। दूसरी पारी में टॉम लैथम और विलियम सोमरविले ने अपनी टीम के लिए एक शानदार शुरुआत करने के बाद, गावस्कर ने कहा कि मेहमान जीत के लिए नहीं खेल रहे थे, बल्कि वे ड्रॉ करने में लगे रहे।

भारत मैच में जीत से सिर्फ एक विकेट दूर था, लेकिन न्यूजीलैंड के बल्लेबाज रचिन रवींद्र और एजाज पटेल (Rachin Ravindra and Ejaz Patel) ने 50 से अधिक गेंदें खेलकर कीवी टीम को टेस्ट ड्रॉ कराने में मदद की। गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने लिखा, न्यूजीलैंड कानपुर में खेले गए मैच को ड्रॉ कराने में कामयाब रहा। पांचवें दिन की शुरुआत में उनकी धीमी बल्लेबाजी ने भारत को मैच में वापस ले आई और इसके बाद भारत ने दूसरे सत्र में विकेट हासिल करना शुरू कर दिया, जिससे वह पूरी तरह से ध्वस्त हो गए, लेकिन वह जीत के लिए नहीं, बल्कि ड्रॉ के लिए खेल रहे थे। गावस्कर का मानना है कि भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की अगुवाई वाली टीम के आक्रामक सोच को देखकर न्यूजीलैंड पूरी तरह से मैच को बचाने में लग गया।