दो दिन बाद रविवार को वर्ष 2019 का सबसे छोटा दिन और सबसे लंबी रात होगी। दरअसल ऐसा संयोग सूर्य शायन मकर राशि में प्रवेश करने से होगा। ज्योतिषाचार्य पं.दामोदर प्रसाद शर्मा के मुताबिक इस दिन पृथ्वी का उत्तरी ध्रुव सूर्य सबसे दूर और दक्षिणी ध्रुव सबसे नजदीक रहेगा। सूर्य मकर रेखा से लंबवत होगा और कर्क रेखा को तिरछा स्पर्श करेगा। इस कारण सूर्य इस दिन शीघ्र अस्त होता है। इसके बाद से दिन की अवधि बढऩे लगेगी और रात छोटी होने लगेगी। यह प्रवेश सुबह 9.50 बजे होगा।

राजधानी जयपुर में 10 घंटे 18 मिनट और 18 सैकंड का दिन होगा। वहीं 13 घंटे 41 मिनट 42 सैकंड की सबसे बड़ी रात होगी। इस दिन से शिशिर ऋतु भी शुरू होगी। जिससे सर्दी और बढ़ेगी। इसके साथ सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण में प्रवेश कर जाएंगे। शास्त्रानुसार इस बदलाव से देवताओं के शुरुआत का दिन माना जाता है। पं.पुरुषोत्तम गौड़ ने बताया कि देश के कई राज्य शीत लहर की चपेट में आ जाएंगे। फसलों के लिए यह सर्दी बहुत फायदेमंद और जरूरी है।

सोमवार से दिन बड़े और रात होगी छोटी

सोमवार से दिन बड़े और रातें छोटी होती जाएगी। 21 मार्च और 23 सितंबर 2020 में दिन रात बराबर होगी। 21 जून को दिन सबसे बड़ा और रात सबसे छोटी होगी। पृथ्वी फिलहाल अपने अक्ष पर 23.5 डिग्री झुकी हुई है। इसके चलते सूर्य की दूरी पृथ्वी के उत्तरी गोलाद्र्ध से अधिक हो गई है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360