गर्मी के मौसम में लीची एक पसंदीदा फल है जिसको सभी खाना पसंद करते हैं। ये हमारे शरीर को फिट रखती है, इसको खाने से चेहरे पर ग्लो आता है और ये शरीर में पानी की कमी नहीं होने देती है, लेकिन क्या आपको पता है कि गुणों का खजाना कही जाने वाली लीची के कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। लीची को ज्यादा मात्रा में खाने से ये हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है। इसको खाने से कभी कभी एलर्जी हो जाती है। इसलिए विशेषज्ञों का मानना है कि जिन लोगों के पहले से कोई बीमारी है या सुगर के मरीज हैं, तो लीची को खाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह ले लेनी चाहिए।

अगर आपको या आपके परिवार में किसी सदस्य को किसी भी तरह की एलर्जी है, तो आपको लीची नहीं खानी चाहिए क्योंकि लीची उस एलर्जी को और भयानक रूप दे सकती है। इसलिए लीची खाने से पहले एक बार डॉक्टर से परामर्श ले लेना चाहिए।

लीची एक गर्म फल होता है, इसलिए अगर आप शुगर के मरीज हैं, या आपका शुगर लेवल कम रहता है तो आपको लीची से दूर रहना चाहिए क्योंकि ये आपके शुगर लेवल को और कम कर देती है।

लीची हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर और शुगर लेवल को कम करती है, इसलिए सर्जरी के बाद हमें इसे खाने से बचना चाहिए, वरना शुगर लेवल को बैलेंस करना मुश्किल हो सकता है।

अगर आप मल्टीपल स्केलेरोसिस, ल्यूपस, गठिया या अन्य बीमारियों से जूझ रहे हैं तो लीची खाने से बचें, क्योंकि ये इम्यून सिस्टम को ज्यादा एक्टिव बनाती है और इससे बीमारियों के लक्षण बढ़ सकते हैं।

लीची एक गर्म फल है, जबकि प्रेगनेंट महिलाओं को गर्म चीजों से परहेज करने की सलाह दी जाती है। इसलिए लीची खाने से पहले उन्हें किसी डॉक्टर से पूछ कर ही लीची खानी चाहिए, वरना बच्चे और मां दोनों को नुकसान पहुंच सकता है।