स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 37.07 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन की खुराक प्रदान की जा चुकी है। वहीं 23 लाख 80 हजार खुराक पाइपलाइन में हैं, जो इन्हें आने वाले दिनों में मुहैया कराई जाएगी। मंत्रालय ने विज्ञप्ति जारी करके यह जानकारी दी। आज सुबह 8 बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार वैक्सीन की 35 करोड़ 40 लाख 60 हाजर 197 खुराक की कुल खपत हो गई है। इसमें बार्बाद डोज का आंकड़ा भी शामिल है।  

मंत्रालय ने यह भी बताया कि राज्यों, केंद्रशासित प्रदेशों और निजी अस्पतालों के पास कोरोना वैक्सीन की 1.66 करोड़ से अधिक (1,66,63,643)  खुराक अभी भी उपलब्ध हैं। कोरोना टीकाकरण का नया चरण 21 जून, 2021 से शुरू हुआ। इस दौरान केंद्र सरकार द्वारा 18 साल से ऊपर के लोगों का मुफ्त टीकाकरण शुरू हुआ।

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में, भारत सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में कोरोना टीके उपलब्ध कराकर उनकी मदद कर रही है। कोरोना टीकाकरण अभियान के सार्वभौमिकरण के नए चरण में, केंद्र सरकार देश में वैक्सीन निर्माताओं द्वारा उत्पादित किए जा रहे टीकों का 75 प्रतिशत हिस्सा खरीद रही है और मुफ्त में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को मुहैया करा रही है।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आज सुबह दी गई जानकारी के अनुसार देश में अब तक कोरोना वैक्सीन की 35 करोड़ 75लाख 53हजार 612 डोज लगाई चा चुकी है। बीते 24 घंटे में वैक्सीन की 45 लाख 82 हजार 246 डोज दी गई। बता दें कि भारत में कोरोना टीकाकरण 16 जनवरी से शुरू हुआ। देश में टीकाकरण के लिए तीन वैक्सीन पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड भारत बयोटेक की कोवैक्सीन और रूस की स्पुतनिक v का इस्तेमाल हो रहा। हाल ही में अमेरिकी वैक्सीन मॉडर्ना की वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी गई। यह वैक्सीन भी इस्तेमाल के लिए देश में बहुत जल्द उपलब्ध होगी।