असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने एशियाई राष्ट्रों के साथ भारत के अच्छे संपर्क बनाने के लिए एक पहल की। इसी के चलते उन्होंने विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन से अपने निवास पर मुलाकात की। मुलाकात में दोनों नेताओं ने दक्षिण पूर्व एशिया के राष्ट्रों के साथ भारत के संबंध मजबूत बनाने के लिए असम और पूर्वोत्तर के राज्यों की भूमिका का बेहतर इस्तेमाल करने पर विचार विमर्श किया। सोनोवाल ने कहा कि असम सहित पूर्वोत्तर के विभिन्न राज्य दक्षिण एशियाई देशों से भारत के संबंध अच्छे बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

केंद्रीय राज्य मंत्री से किया आग्रह

आर्थिक, रणनीतिक और सांस्कृतिक संबंधों को मजबूत बनाने से ये देश भारत के ज्यादा करीब आ सकते हैं जिसका लम्बे समय तक देश को लाभ मिलेगा। उन्होंने केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन से आग्रह किया कि वे अपनी भूमिका का बेहतर उपयोग करें जिससे दक्षिण एशियाई देशों से भारत के सम्बंध बेहतर होने का सीधा लाभ असम सहित पूरे पूर्वोत्तर के राज्यों को मिले।

'एक्ट ईस्ट पालिसी'

दिसपुर में हुई इस मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि 'एक्ट ईस्ट पालिसी' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकता में आता है और मूल रूप से उन्होंने ही इसे आगे बढ़ाने की बात सोची थी। दक्षिण एशियाई देशों से सम्बंध बेहतर बनाने में इन राष्ट्रों और भारत के बीच अच्छा शैक्षणिक और सांस्कृतिक सहयोग बड़ी भूमिका निभा सकता है, इसलिए इन माध्यमों से दक्षिण एशियाई देशों की जनता के साथ भारत के लोगों के सीधे सम्बंध बनाने को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।


सीधा संपर्क बढ़ाने पर विचार

सोनोवाल ने कहा कि दक्षिण पूर्व एशियाई देशों से संबंध बेहतर बनाने के लिए इन देशों के साथ भारत का सीधा संपर्क बढ़ाने पर विचार किया जाना चाहिए। इन देशों और भारत के बीच वायुमार्ग, सड़कों और रेलवे के बेहतर नेटवर्क बनाने से इन देशों को अपने साथ जोड़ने में मदद मिलेगी, इसलिए सरकार को इस तरफ ध्यान देना चाहिए।