श्रीलंका में महंगाई बेकाबू हो चुकी है जिसके चलते आर्थिक संकट बढ़ गया है और लोग देश छोड़ने को मजबूर हो रहे हैं। ये लोग श्रीलंका छोड़कर भारत का रुख कर रहे हैं। 16 श्रीलंकाई तमिल नागरिक अपना देश छोड़ काफी पैसे देकर नाव से तमिलनाडु के तट पर पहुंचे। इन लोगों में 4 महीने का एक नवजात भी शामिल था।

यह भी पढ़ें : सरकार को अरूणाचल में बड़ी कामयाबी, एक ही झटके में सरेंडर करवाई 2000 से अधिक एयर गन

श्रीलंका के जाफना और तलाईमन्नार से ये लोग दो ग्रुप में तमिलनाडु पहुंचे। पहले ग्रुप में तीन बच्चों समेत छह लोग शामिल थे। श्रीलंका से आए इन लोगों में एक कपल भी शामिल था जिसका चार माह का एक बेटा है। ये सभी लोग फाइबर की नाव से तट पर पहुंचे जहां तटरक्षक बलों ने उन्हें रेस्क्यू किया। दूसरे ग्रुप में पांच बच्चों और तीन महिलाओं समेत 10 लोग शामिल थे।

यह भी पढ़ें : अरूणाचल की बेटियों ने किया नाम रोशन, राष्ट्रीय राफ्टिंग चैंपियनशिप में जीता सिल्वर

6 लोगों के ग्रुप ने भारत में अधिकारियों से बताया कि सभी जरूरी वस्तुओं की कीमतें बढ़ गई हैं। बेरोजगारी भी चरम पर है, इसलिए उन्होंने अपना देश छोड़ दिया। शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि वे जाफना और तलाईमन्नार के रहने वाले हैं। उनसे पूछताछ करने वाले एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सभी 6 श्रीलंकाई तमिल नागरिक रात करीब 10 बजे श्रीलंका से एक नाव में सवार हो गए। सोमवार को आधी रात के बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा को पार कर लिया। जो नाविक उन्हें लेकर आया था उसने लोगों को एक छोटे से द्वीप पर छोड़ दिया और झूठ कह दिया कि रामेश्वरम से उन्हें कोई लेने के लिए आएगा।