असम विधानसभा में बजट सत्र प्रारंभ हुए हैं। इसके पहले दिन ही कांग्रेस विधायक शेरमन अली अहमद लगातार एनआरसी पर बहस की मांग कर रहे थे। उनकी इस मांग को स्पीकर ने खारिज दिया। इसके बाद लगातार उन्हें बैठने के लिए कहा जा रहा था। स्पीकर के लगातार कहने के बावजूद विधायक एनआरसी से जुड़े मुद्दे पर बहस की मांग करते रहे। इसके बाद स्पीकर ने उन्हें सस्पेंड कर दिया।


दरअसल विधानसभा में जैसे ही प्रश्नकाल खत्म हुआ, वैसे ही अहमद एनआरसी को लेकर राज्य की समन्वयक कार्यालय की ओर से की गई कथित असंगतियों के मामले में व्यवस्था का प्रश्न उठाना चाह रहे थे। विधानसभा अध्यक्ष हितेंद्रनाथ गोस्वामी ने अनुमति से इनकार करते हुए कहा कि यह मुद्दा व्यवस्था के प्रश्न की श्रेणी में नहीं आता है। इसके बाद उन्होंने अहमद को अपने चैम्बर में इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए बुलाया।

विपक्षी विधायक ने अध्यक्ष के निर्देश की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया और बोलते रहे। गोस्वामी ने कहा कि अहमद के भाषण को दर्ज नहीं किया जाएगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कई बार अहमद को बैठने के लिए कहा लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया। इसके बाद स्पीकर ने ये भी कहा जब मैं खड़ा हूं तो आपको बैठ जाना चाहिए। यह नियम है।


इसके बाद गोस्वामी ने कहा कि मैं शेरमन अली अहमद को सदन की कार्यवाही में बाधा डालने के लिए निलंबित करता हूं। कृपया आप यहां से जाएं। आप सदन के बहुमूल्य समय को बर्बाद नहीं कर सकते।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360