विश्वनाथ जिला पुलिस अधिक्षक राकेश रोशन ने आज एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया। उन्होंने कहा कि विश्वनाथ के बिहाली क्षेत्र के बरगांग में मुख्यमंत्री की सभा में काला कपड़ा पहनकर नहीं जाने की बात विश्वनाथ जिला प्रशासन ने नहीं कही थी। प्रशासन ने काला झंडा, रूमाल आदि चीजें सभा में ले जाने पर रोक लगाई थी।


इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक राकेश रोशन ने स्पष्टीकरण दिया। ज्ञात हो की  विश्वनाथ जिले में मुख्यमंत्री की सभा के बाहर एक महिला अपनी दो वर्ष की बच्ची के शरीर से काला जैकेट खोल रही थी। जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। उन्होंने स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि इसका जिला प्रशासन व विश्वनाथ पुलिस अधीक्षक ने निर्देश नहीं दिया था।


आप को बता दे कि सोशल मीडिया पर वीडियों वायरल  होने के बाद सियासी पारा चढ़ा हुआ है और विभिन्न राजनीतिक दलों ने उस घटना को जनता के बीच जोर-शोर से उठी रहे है। वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा सोनोवाल को कमजोर  मुख्यमंत्री बताया है।