उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को छात्रा के उत्पीडऩ के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में पुलिस अधीक्षक का तबादला कर दिया जबकि दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बस्ती के पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा को पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से संबद्ध कर दिया गया है जबकि उनके स्थान पर अभिसूचना मुख्यालय में तैनात पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव को भेजा गया है। 

उन्होने बताया कि इसके पहले छात्रा के साथ बदसलूकी करने और उसके खिलाफ फर्जी मामला दर्ज करने के मामले में कोतवाल रामपाल यादव,उपनिरीक्षक दीपक सिंह और तथा नगर थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर दुर्गविजय सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। 

गौरतलब है कि दारोगा दीपक सिंह ने छात्रा से प्यार का इजहार किया था और मना करने पर उसके साथ अभद्रता करने के साथ छात्रा के खिलाफ फर्जी मामले दर्ज किये थे। इस मामले की जांच गोरखपुर के अपर पुलिस महानिदेशक अखिल कुमार ने की और आरोप सही पाये जाने के बाद आरोपी दारोगा के अलावा दो अन्य पुलिसकर्मियों के निलंबन की कार्रवाई की गयी।