आगरा। यूपी के मुख्यमंत्री योगी (UP Chief Minister Yogi) ने कहा कि सपा सरकार ने औरंगजेब (Aurangzeb) को धूल चटाने वाले गोकुल जाट (Gokul Jat) का सम्मान नहीं किया। हमारी सरकार ने आगरा के म्यूजियम का नाम छत्रपति शिवाजी (Chhatrapati Shivaji) के नाम पर रखा।

मुख्यमंत्री सोमवार को आगरा में आयोजित प्रभावी मतदाता संवाद कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारें जनता को सुविधाओं से, युवाओं को रोजगार से, बेटियों को उनके अधिकारों से, बुजुर्ग दिव्यांग, निराश्रित महिलाओं को योजनाओं व सुविधाओं से वंचित रखती थी, लेकिन प्रदेश में बुजुर्ग, दिव्यांगजन, निराश्रित महिलाओं की पेंशन हमारी सरकार ने लागू की। डबल इंजन की सरकार ने बेटी के जन्म से लेकर स्नातक की पढ़ाई तक का जिम्मा लेते हुए उनके विवाह के लिए भी इंतजाम किया।

उन्होंने कहा कि भाजपा आस्था का सम्मान करती है वहीं सपा आस्था के संग खिलवाड़ करती है। पहले चाचा, भतीजे महाभारत के सभी रिश्ते वसूली के लिए निकल पड़ते थे। पहले ट्रांसफर, पोस्टिंग और तो और युवाओं को रोजगार देने के मामले में भी वो लोग उगाही करते थे।

उन्होंने कहा कि सपा की टोपी मुफ्फरनगर दंगों (muffernagar riots) में मारे गए निर्दोष लोगों के खून से रंगी है। सपा (SP) को जब भी मौका मिला इन्होंने प्रदेश को दंगों में झोंका, योजनाओं में बंदरबाट किया। सामाजिक ताने-बाने को छिन्न भिन्न करने का काम इन सपा-बसपा (SP-BSP) ने किया। हमारी सरकार ने गरीब कल्याण से जुड़ी योजनाओं को लागू किया। जिसका परिणाम है कि आज हर गरीब किसान को लाभ मिल रहा है।

कहा कि जो सपा संरक्षित माफिया गुंडे टिकट लेकर जनता को धमकाने के लिए आ रहे हैं। मैं उनसे कहना चाहूंगा कि 10 मार्च के बाद वही बुलडोजर चलने को तैयार रहेगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी राष्ट्रवाद, सुशासन और विकास के साथ आपके सामने है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने सपा-बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि गरीब को डबल डोज राशन दिया जा रहा है। एक ओर गरीबों के प्रति संवेदना रखने वाली सरकार है तो वहीं दूसरी ओर गांव, गरीब, किसान, युवा के साथ नहीं, अपराधियों को संरक्षण देने वाली सपा व बसपा की सरकार रहीं। इन लोगों को सबक सिखाने का अवसर अब आ गया है। उन्होंने कहा कि सपा का विकास जमीन पर नहीं दिखता।