मेघालय में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को झटका लगा है। पूर्व एमडीसी साउंडेर काजी ने मंगलवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। 6 माह पहले ही काजी ने भाजपा ज्वाइन की थी। काजी ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए अपना इस्तीफा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष शिबुन लिंगदोह को सौंप दिया। त्याग पत्र में काजी ने कहा कि अपरिहार्य कारणों से उन्हें इस्तीफा देना पड़ रहा है,जो 7 नवंबर से प्रभावी होगा। पूर्व एमडीसी काजी ने कहा कि उन्हें 200 के करीब समर्थकों ने भाजपा छोडऩे की सलाह दी थी। इस सलाह के बाद उन्होंने भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का फैसला किया।
जब काजी से पूछा गया कि क्या वे 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव में हिस्सा लेंगे तो उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया। आपको बता दें कि काजी इस साल मई में भाजपा में शामिल हुए थे। असम क्लब में एक कार्यक्रम के दौरान वह भाजपा में शामिल हुए थे। मेघालय में अगले साल विधानसभा चुनाव है। मेघालय के उप मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रोफेसर आर.सी लालू 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगे।
इससे पहले उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री रोशन वाज्री ने भी चुनाव नहीं लडऩे का ऐलान किया था। मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने बताया कि प्रोफेसर लालू ने 2018 के विधानसभा चुनाव से खुद को अलग कर लिया है। मुख्यमंत्री के मुताबिक लालू ने विधानसभा चुनाव नहीं लडऩे के बारे में उन्हें जानकारी दी है। आपको बता दें कि प्रोफेसर लालू दूसरे विधायक हैं जो चुनावी मुकाबले से बाहर हो गए हैं। इससे पहले वाज्री ने हाल ही में चुनाव नहीं लडऩे का फैसला लिया था। हालांकि संगमा ने कहा, पार्टी उनकी सीट फिर से जीतने को लेकर आश्वस्त है। पार्टी के 60 सदस्यीय विधानसभा में 30 विधायक हैं।