असम राइफल्स में सूबेदार के पद पर तैनात जांबाज सूबेदार रजनेश कुमार का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ। ज्ञात हो कि अरुणाचल प्रदेश के जयरामपुर में ड्यूटी के दौरान  उनका निधन हो गया था।


अरांव ब्लॉक के नगला केहरी के रहने वाले 50 वर्षीय रजनेश कुमार बघेल पुत्र नवाब सिंह असम राइफल्स में तैनात थे। नायब सूबेदार के पद से उनका प्रमोशन कुछ दिनों पहले ही हुआ था। बुधवार शाम अचानक उनकी तबियत बिगड़ी जिसके बाद उपचार के लिए ले जाते समय ही उनकी मौत हो गई। सैन्य अधिकारियों ने मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई है। जयरामपुर से उनका पार्थिव शरीर हवाई जहाज से देर रात दिल्ली पहुंचा था। जिसके बाद दोपहर 12 बजे उन्हें अंतिम विदाई दी गई।


ज्ञात हो कि सूबेदार रजनेश का परिवार देश सेवा में समर्पित है। उनके दो बेटे पवन और विमल भी फौज में है। पवन की तैनाती अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग में है, जबकि विवेक की तैनाती त्रिपुरा में हैं। दो बेटे शिवकुमार और बिपिन फौज में भर्ती होने के लिए तैयारी कर रहे हैं। पिता की मौत की जानकारी होने पर पवन पहुंच गए थे। पार्थिव शरीर के साथ वे गांव पहुंचे।


आपको बता दें कि सूबेदार का अंतिम संस्कार सरकारी जमीन पर किया गया। परिवार वालों ने स्मारक के लिए प्रशासन से जमीन की मांग की है। जिसके बाद एसडीएम कुमार चंद ने बताया कि जहां पर अंतिम संस्कार हुआ है, वहीं स्मारक के लिए जमीन दे दी गई है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360