आमिर खान और किरण राव के तलाक हो गया है। दोनों ने  खुशी खुशी तलाक लिया है। दोनों कपल के  तलाक पर कई लोगों के कई तरह के रिएक्शन आ रहे हैं। इस दौर में  कंगना रनौत मेडम कैसे पीछे रह सकती है। बता दें कि कपल ने 15 साल पुरानी अपनी शादी का अंत कर दिया है। कंगना रनौत ने अपना रिएक्शन दिया है।


उन्होंने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर इंटर-फेथ मैरिज  और बच्चों के पालन-पोषण के बारे में बात की है। कंगना पहले भी आमिर खान को लेकर बोलती रही हैं। कंगना ने कहा कि “ एक समय पंजाब में ज्यादातर परिवार अपने एक लड़के को हिन्दू की तरह और दूसरे को सिख की तरह पालते-पोसते थे। यह चलन कभी हिन्दू और मुस्लिम, सिख या मुस्लिम या फिर किसी दूसरे धर्म में देखने को नहीं मिला ”।


कंगना ने आगे कहा कि “ आमिर खान सर के दूसरे तलाक के बारे में बात करें, तो मुझे आश्चर्य होता है कि दो अलग-अलग धर्मों के लोगों की शादी में बच्चे हमेशा मुस्लिम ही क्यों होते हैं, मां क्यों हिन्दू नहीं बनी रह सकती हमें बदलते वक्त के साथ इसे बदलना चाहिए. यह चलन हमें पीछे की ओर ढकेल रहा है. अगर एक परिवार में हिन्दू, जैन, बौध, सिख, राधास्वामी और नास्तिक रह सकते हैं, तो मुस्लिम क्यों नहीं? एक मुस्लिम से शादी करने के लिए क्यों किसी को धर्म बदलना चाहिए?' अलग होने के बावजूद, आमिर और किरण ने खुलासा किया था कि वे अपने बेटे आजाद के को-पैरेंट्स बने रहेंगे. दोनों ने अपनी स्टेटमेंट में लिखा है ”।