अखरोट को एक सुपरफूड माना जाता है, जो हेल्थ के साथ ही ब्यूटी के लिए भी काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होता है। इस दिमाग की शेप वाले नट को खाने से दिमाग तेज होता है। विटामिन, फाइबर, आयरन, कार्बोहाइड्रेट से भरपूर ये मेवा काफी ज्यादा हेल्दी होती है। अपने दिन को अच्छे से शुरू करने के लिए आप रोजाना सुबह इसे अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं। अगर आप अखरोट को रात भर के लिए भिगो कर अगले दिन खाते हैं तो भी आपको कई बेनिफिट मिलते हैं।

हेल्दी स्किन और बाल

अखरोट हेल्दी स्किन के लिए एक सुपरफूड है क्योंकि ये एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन ई से भरपूर होते हैं, जो मुलायम और चमकती त्वचा पाने में आपकी मदद कर सकते हैं। इसी के साथ अपनी रोजाना की डायट में अखरोट को शामिल करने से बालों को भी फायदा मिलता है। ये बालों की ग्रोथ  में मदद करते हैं और स्कैल्प को पोषण देने और बालों के रोम को मजबूत करते हैं। 

यह भी पढ़े : Horoscope Today: आज शुभ बनी है ग्रहों की स्थिति , इन राशि वालों का होगा भाग्योदय , पीली वस्‍तु पास रखें

बूस्ट होता है मेटाबॉलिज्म

अखरोट आयरन, पोटैशियम, जिंक और कैल्शियम से भरपूर होता है जो मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है और वजन कम करने में भी मदद करता है। इसी के साथ फाइबर की मात्रा शरीर को भरा रखती है जिससे आपको बार-बार स्नैकिंग से बचने में मदद मिल सकती है। ऐसे में आपना वजन भी कम होता है। 

बेहतर होगी ब्रेन फंक्शनिंग

अखरोट मस्तिष्क के आकार का होता है, जो मानसिक फ्लैक्सिबिलिटी, मेमोरी को बूस्ट करता है और सुधार भी करता है। यह चीजों को संसाधित करने की आपकी गति को भी बढ़ाता है। छोटा अखरोट कई पोषक तत्वों से भरा होता है जो आपके ओवरऑल ब्रेन फंक्शनिंग के लिए बेहतर है और आपके कॉन्सनट्रेशन लेवल को बढ़ाता है। 

ये भी पढ़ेंः जेल में बंद 218 मुस्लिम कैदियों ने विधि विधान से नवरात्रि व्रत रख पेश की सांप्रयादिक सौहार्द की मिसाल

हड्डियां होती है मजबूत

कैल्शियम और मैग्नीशियम से भरपूर अखरोट  हमारे शरीर में हड्डियों को मजबूत करते हैं और हड्डियों के निर्माण में मदद करते हैं। नियमित रूप से इनको खाने से आपकी हड्डियों के ओवरऑल हेल्थ स्ट्रक्चर में भी सुधार होता है।

स्ट्रेस होता है कम 

रिपोर्ट्स की मानें तो भीगे हुए अखरोट खाने से तनाव कम करने में मदद मिलती है। ये तनाव के समय ब्लडप्रेशर को कम करने में भी मदद करते हैं।

किन लोगों को होता है खतरा

अखरोट मल और सूजन को नरम कर सकता है ऐसे में ये उन लोगों के लिए खराब है जो पाचन संबंधी समस्याओं से जूझ रहे हैं। साथ ही मोटारे से परेशान लोगों को इसकी मात्रा पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि ये वजन भी बढ़ा सकता है। यह उन लोगों में एलर्जी का कारण हो सकता है जो इसके प्रति सेंसिटिव हैं।