ढाका। बंगलादेश में चटगांव के सीताकुंडा में एक निजी इनलैंड कंटेनर डिपो (आईसीडी ) में आग लगने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 37 हो गयी है। मृतकों में पांच दमकलकर्मी भी शामिल हैं। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि मृतकों की अभी तक मृतकों की पहचान नहीं हो पायी है। 

ये भी पढ़ेंः श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले के जुड़े एक वादी को मिली जान से मारने की धमकी

इस घटना में पुलिस, दमकल कर्मियों और स्थानीय लोगों सहित चार सौ से अधिक लोग जख्मी हुए हैं, जिन्हें उपचार के लिए विभिन्न सरकारी और निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। 

चट्टोग्राम मेडिकल कॉलेज ने घायलों और मृतकों की संख्या की पुष्टि करते हुये बताया कि निजी अस्पतालों के चिकित्सकों को भी मदद के लिए बुलाया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों,पुलिस और डिपों सूत्रों के अनुसार डिपो में 50 हजार कंटेनर थे। माना जा रहा है इन कंटेनरों में किसी ज्वलनशील रसायन की वजह से आग लगी है। 

ये भी पढ़ेंः High Alert in Islamabad : पाकिस्तान में इमरान खान की जान को खतरा? बुलेटप्रूफ कार का इस्तेमाल करने की सलाह

डिपों के निदेशक मुजीबुरहमान ने कहा कि घायलों के उपचार का खर्चा डिपो की तरफ से वहन किया जायेगा साथ ही मृतकों यथासंभव मुआवजा भी दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि आग के वास्तविक कारणों का पता नही लग पाया है क्योंकि इस अग्निकांड में डिपों के कर्मचारी भी झुलस गये हैं।