जोरहाट।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम दौरे के दौरान आज पूरे राज्य के साथ जोरहाट में भी विभिन्न संगठनों द्वारा नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर कड़ा विरोध देखा गया । जोरहाट जिला छात्र संस्था ने विधेयक को रद्द करने की मांग में जिला उपायुक्त कार्यालय के समक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक कर विरोध-प्रदर्शन किया ।

इस दौरान आसू के केंदीय सांगठनिक सचिव जुल खाउड़, आंचलिक छात्र संस्था के मुख्य सलाहकार व जिला आसू के सह सचिव विजय शंकर बरदोलै के नेतृत्व में सौ से भी अधिक आसू कार्यकर्ताओं  ने इस विरोध में हिस्सा लिया । गौरतलब है कि इस विरोध कार्यसूची में सुतिया युवा सम्मेलन, गण अधिकार संग्राम समिति असम जातीयतावादी युव परिषद सहित आसू के सहयोगी 28 संगठनों ने हिस्सा लिया ।

 वही चिनामारा में विधेयक के खिलाफ धरना  दिया गया । चिनामारा तीनाली  में हुए इस विरोध में विरोधकारियों ने सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और राज्य के मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की । पत्रकार दिव्यज्योति शर्मा के नेतृत्व में यह विरोध-प्रदर्शन किया गया ।