केरल (Kerala) के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन (landslides) में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा, राज्य में बाढ़ (floods) और भूस्खलन के बाद एक दर्जन से अधिक लोगों के लापता होने की आशंका है। इद्दुकी जिले के थोडुपुझा और कोक्कयार और केरल के कोट्टायम जिले के कूटिक्कल से मौतों की सूचना मिली है।


दूसरी ओर, मीनाचल और मणिमाला, केरल की दो प्रमुख नदियाँ लगातार बारिश के बाद उफान पर हैं। इस बीच, केरल के सीएम पिनाराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan) ने राज्य में बाढ़ और भूस्खलन की स्थिति को 'गंभीर' करार दिया है। IMD ने अरब सागर के ऊपर बने कम दबाव के सिस्टम के कारण केरल में व्यापक भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है।

IMD ने एक बयान में कहा“दक्षिणपूर्व अरब सागर पर निम्न दबाव के क्षेत्र के प्रभाव में, केरल तट से दूर, केरल में 17 अक्टूबर की सुबह तक अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा (heavy falls) होने की संभावना है। 18 और 19 अक्टूबर की सुबह से बारिश में और कमी आई है, ”। इस बीच, बचाव कार्यों के लिए सेना को तैनात किया गया है और बाढ़ प्रभावित इलाकों में वायुसेना को तैयार रखा गया है।