दिल्ली सरकार का कहना है कि गुजरात भाजपा की एक टीम दिल्ली के स्कूलों अस्पतालों व मोहल्ला क्लीनिक की हकीकत जानने के लिए दिल्ली आई है। आम आदमी पार्टी (आप) का कहना है कि दिल्ली में आप के विधायक गुजरात से आई भाजपा की टीम को दिल्ली के स्कूल और अस्पताल दिखाने में मदद करेंगे। हालांकि गुजरात से आई भाजपा की टीम ने इसका खंडन किया है। 

ये भी पढ़ेंः आम आदमी को लगातार 38वें दिन भी मिली राहत, जानिए आज कितनी है पेट्रोल और डीजल की कीमत


गुजरात भाजपा की टीम के सदस्य अमित ठाकेर का कहना है कि गुजरात भाजपा की एक टीम दिल्ली आई जरूर है, लेकिन यह टीम दिल्ली में केंद्र सरकार व भाजपा के निकायों द्वारा किए गए विकास कार्यो को देखने के लिए आई है। इन विकास कार्यो में सेंट्रल विस्ता जैसे प्रोजेक्ट शामिल हैं। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, पता चला कि गुजरात भाजपा की टीम दिल्ली के स्कूल-मोहल्ला क्लिनिक देखने आ रही है। हमने गुजरात की इस टीम के स्वागत के लिए और इन्हें स्कूल व मोहल्ला क्लिनिक दिखाने के लिए 5 विधायकों की टीम बनाई है। दिल्ली की टीम में आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज, संजीव झा, आतिशी, कुलदीप कुमार और गुलाब सिंह को रखा गया है।

ये भी पढ़ेंः कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के निजी सचिव पर दलित महिला के साथ रेप का केस दर्ज


सिसोदिया दिल्ली के शिक्षा मंत्री भी हैं, उन्होंने कहा, हमारे ये पांचों विधायक गुजरात भाजपा का स्वागत करेंगे और उन्हें दिल्ली के जिस क्षेत्र में भी वो चाहें, जो भी स्कूल, अस्पताल या मोहल्ला क्लिनिक वे देखना चाहें, उन्हें दिखाएंगे। दिल्ली सरकार अन्य राज्यों के अतिथियों का हमेशा स्वागत करती है। उन्होंने यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी के यही 5 विधायक एक हफ्ते के बाद गुजरात का दौरा करेंगे। सिसोदिया के मुताबिक, आप के विधायक आतिशी, सौरभ भारद्वाज, संजीव झा, कुलदीप कुमार और गुलाब सिंह गुजरात जाकर वहां के स्कूल-अस्पताल देखेंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा, मुझे भरोसा है कि गुजरात सरकार भी इसी प्रकार उनका स्वागत करेगी और जहां भी हमारे विधायक चाहें, उन्हें अपने स्कूल और अस्पताल दिखाएगी। हालांकि गुजरात से आई भाजपा की टीम ने दिल्ली सरकार के दावों का पूरी तरह खंडन किया है। उनका कहना है कि वे दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई परियोजनाओं को देखने के लिए आए हैं। आम आदमी पार्टी के दावे को खारिज करते हुए इस टीम का कहना है कि जैसा आप कह रही है, वैसा कुछ भी नहीं है।