सर्दियों का मौसम आते ही मार्केट में सिंघाड़ा (Singhara) बिकना शुरू हो जाता है। सिंघाड़े में शरीर को फायदा पहुंचाने वाले कई औषधीय गुण होते हैं, जो शरीर को बीमारियों से बचाते हैं। सिघाड़ा में कैल्शियम, विटामिन-बी6, पोटैशियम, मैग्नीशियम और कॉपर जैसी गुणकारी तत्व होते हैं। कई लोग इसे पीसकर बने आटे का भी इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं सिंघाड़े खाने के जबरदस्त फायदे (Singhara Benefits) —

— अस्थमा के रोगी जिनको सांस से जुड़ी तकलीफ ज्यादा होती है, उनके लिए सिंघाड़ा काफी काम का है। सिंघाड़ा नियमित रूप से खाने से सांस संबधी समस्याओं में आराम मिलता है।

— कैल्शिमय से भरपूर सिंघाड़ा आपकी हड्डियां मजबूत करता है। इससे ऑस्टोपरोसिस या आर्थराइटिस की दिक्कत भी नहीं होती है। हड्ड‍ियां के अलावा यह आपके दांत और आंखों के लिए भी फायदेमंद है।

— सिंघाड़े को शिशु और मां की सेहत के लिए यह काफी अच्छा है। इससे पीरियड्स और गर्भपात दोनों ही समस्याओं से राहत मिलती है।

— शरीर के ब्लड सर्कुलेशन के लिए भी सिंघाड़ा अच्छा माना जाता है। यूरीन से जुड़े रोगों में भी इसके कई फायदे है। यह थाइरॉयड और दस्त जैसी दिक्कतों मे भी बेहद कारगर है।

— सिंघाड़ा बवासीर जैसी समस्याओं से भी निजात दिलाने में कारगर है। 100 ग्राम सिंघाड़े में 6 प्रतिशत विटामिन सी और 15 प्रतिशत विटामिन बी-6 पाया जाता है।

— सिंघाड़ा फटी एड़ियों को भी ठीक करता है। शरीर के किसी हिस्से में दर्द या सूजन से राहत पाने के लिए भी आप इसका पेस्ट बनाकर उस जगह लगा सकते हैं।

— सिंघाड़े में आयोडीन भी पाया जाता है जो गले संबंधी रोगों से रक्षा करता है। इसके अलावा इसमें पाए जाने वाले पॉलिफेनल्स और फ्लेवोनॉयड जैसे एंटी ऑक्सीडेंट एंटी-वायरल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी कैंसर और एंटी फंगल फूड माने जाते हैं।